Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

इन 5 आदतों की वजह से रिश्ते में आती है कड़वाहट

हम सभी की लाइफ में कुछ ऐसे रिश्ते होते हैं, जिनसे हम दिल से दूर होना चाहते हैं लेकिन कई वजहों से हो नहीं पाते हैं। ये वजहें होती हैं बेहद सामान्य हैं, जिसके कारण इनको पहचानना कई बार बहुत मुश्किल हो जाता है। क्या आप उन आदतों के बारे में जानते हैं अगर नहीं, तो आज हम उन आदतों के बारे में बता रहे हैं, जिनसे रिश्तों में कड़वाहट आती है और अक्सर उनके कारण रिश्ते को खत्म करने तक के लिए तैयार हो जाते हैं।

इन 5 आदतों की वजह से रिश्ते में आती है कड़वाहटरिश्ते में कड़वाहट लाने वाली आदतें

रिश्ते, हर किसी की जिंदगी में एक बेहद अहम भूमिका निभाते हैं, क्योंकि रिश्ते ही होते हैं, जिनसे हर कोई अपनी लाइफ से जुड़ी सभी छोटी बड़ी बात को शेयर कर पाते हैं। अपने सुख दुख को बढ़ा और घटा पाते हैं, लेकिन कई बार रिश्तों में अचानक से पैदा हुई गलतफहमियां और एक-दूसरे की गलतियां रिश्ते को बर्बाद कर देती हैं। रिश्ते में कड़वाहट आने के कारण बहुत सारे होते हैं, लेकिन उन वजहों को स्वीकार करना दोनों ही पार्टनर्स के लिए बेहद मुश्किल होता है। जिससे दूरियां और ज्यादा बढ़ जाती है। ऐसे में अगर आप भी अपने रिश्ते में कड़वाहट और दरार को महसूस कर रहे हैं लेकिन कारणों को सही से पहचान नहीं पा रहे हैं, तो आज हम आपको रिश्ते में जहर घोलने वाली वजह की एक लिस्ट लेकर आए हैं, जिन्हें जानकर आप अपने व्यवहार और अन्य चीजों में बदलाव लाकर स्थिति को सुधार सकते हैं।

रिश्ते में कड़वाहट लाने वाले कारण :


1. कमियों को स्वीकार न करना

दुनिया में हर किसी व्यक्ति में कुछ खामियां होती हैं, तो कुछ अच्छाईयां, जो उनके व्यक्तिव को पूरा करने के साथ दूसरों से अलग बनाने में मदद करती हैं। ऐसे में अगर आप कोई कमी है तो उसमें सुधार लाने की कोशिश करें, जबकि पार्टनर की छोटी-छोटी कमियों को नजरअंदाज करें, लेकिन अगर कमी बड़ी है, तो ऐसे में अपना सपोर्ट देकर सुधार लाने का प्रयास करें। इन प्रयासों के बाद भी रिश्ते में सकारात्मकता नहीं आती है, तो हमेशा के लिए रिश्ता खत्म करना ही ऑप्शन सही रहेगा।

2. हमेशा लड़ाई करने से बचें

अगर आप रोजाना छोटी छोटी बातों पर एक-दूसरे से लड़ाई करने से परेशान हो गए हैं, तो ऐसे में रिश्ते को बेहतर बनाने के लिए पार्टनर को पहले बोलने का मौका दें। उसके बाद अपना पक्ष शांति और धीमे स्वर में रखें। पार्टनर के पहले बात रखने से आप लड़ाई के कारण को समझ सकेगें और अपने पक्ष को सही तरीके से पार्टनर से कह पायेगें। इसके अलावा लड़ाई से बचने का आसान तरीका है पार्टनर की आदतों को नजरअंदाज करना सीखें, क्योंकि पार्टनर्स के बीच अधिकांश झगड़े एक दूसरे की बात न समझ पाने की वजह से होते हैं।


3. किसी अन्य की ओर आकर्षित होना

अगर आपके रिश्ते में अचानक से तनाव और गलतफहमियां बढ़ने लगी हैं, तो इसका एक कारण पार्टनर या आपका किसी तीसरे यानि अन्य के प्रति आकर्षण होना भी हो सकता है। क्योंकि ऐसा जब होता है, तो ऐसे में पार्टनर को प्रॉपर टाइम नहीं दे पाते हैं साथ उसकी बातों को पूरा सुना बिना ही रिएक्ट कर देते हैं, जिससे गलतफहमियां बढ़ने लगती हैं और उससे लड़ाई झगड़े भी, ऐसे में आकर्षण की बात को खुद स्वीकार करें और पार्टनर को ईमानदारी से बताएं।

4. एक दूसरे की रिस्पेक्ट न करना

अगर आप या आपका पार्टनर बात बात पर आपकी फीलिंग्स को हर्ट करता है, झगड़े में गाली गलौज या परिवार वालों के लिए अपशब्दों का यूज करता है, तो हर रिश्ते में कड़वाहट लाने वाले मुख्य कारणों में से सबसे अहम होता है। क्योंकि हर किसी को रिश्ते में सम्मान देना पाना और देना अधिकार और कर्तव्य दोनो हैं। ऐसे में अगर लंबे समय तक रिश्ते में एक दूसरे को सम्मान नहीं दिया जाता है, तो वो टूटने की कगार पर पहुंच जाता है।


5. पार्टनर की बुरी आदतें

वैसे तो हर किसी में कुछ खामियां होती है, लेकिन कुछ बुरी आदतें इतना ज्यादा परेशान कर देती हैं, जिनसे रिश्तों में दूरियां आने लगती हैं। इनमें पार्टनर को रिस्पेक्ट न करना, शराब और स्मोकिंग करने की आदत, अन्य लड़कियों के साथ फ्लर्ट करने की आदत प्रमुख हैं। ऐसे में अगर आप समय से इन आदतों में बदलाव नहीं लाते हैं, तो रिश्ते के खत्म होने की नौबत तक आ सकती हैै।

Next Story
Share it
Top