Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ऐसे चुटकी में पकड़ें पति का झूठ, हर पत्नी के लिए बड़े ही काम के हैं ये ट्रिक्स

आज हम आपको कुछ ऐसी ट्रिक्स बताने जा रहे हैं, जिनकी मदद से आप अपने पति का झूठ आसानी से पकड़े सकती हैं। इस तरीके से आप आसानी से अपने पति का झूठ पकड़ लेंगी और फिर उन्हें अगली बार झूठ बोलने में डर लगेगा। जानें क्या है वह तरीका

पति के गुस्से को शांत करने के लिए अपनाएं ये टिप्स, बहुत ही असरदार हैं ये उपाय
X

पति के गुस्से को शांत करने के लिए अपनाएं ये टिप्स, बहुत ही असरदार हैं ये उपाय(फाइल फोटो)

पति-पत्नी के बीच छोटी-मोटी नोंकझोंक तो होती रहती है। कहा भी जाता है जहां प्यार होता है वहीं तकरार भी होती है। पति-पत्नी के बीच प्यार भरी नोंकझोंक जरूरी है। लेकिन रिश्ता तब कमजोर होने लगता है, जब रिश्ते में झूठ की जगह बनने लगती है। कई बार ऐसा होता है कि पति बहुत ही सफाई से पत्नी झूठ बोल देते हैं और वह समझ भी नहीं पाती। एक बार झूठ बोलकर बच जाने पर पतियो के झूठ बोलने की आदत बनती जाती है। ऐसे में आज हम आपको कुछ ऐसी ट्रिक्स बताने जा रहे हैं, जिनकी मदद से आप अपने पति का झूठ आसानी से पकड़े सकती हैं। इस तरीके से आप आसानी से अपने पति का झूठ पकड़ लेंगी और फिर उन्हें अगली बार झूठ बोलने में डर लगेगा। जानें क्या है वह तरीका

चेहरा

झूठ का पता लगाने के लिए सबसे पहले चेहरा पढ़ने की कोशिश करें। आपके किसी भी सवाल का जवाब देने के समय अगर आपके पति में आत्मविश्वास नहीं है तो इसका मतलब है कि वह झूठ बोल रहे हैं। झूठ बोलने पार्टनर आस-पास की चीजों को छूने लगते हैं।

पैर

आप पति के पैरों को भी देखकर उनका झूठ पकड़ सकती हैं। अगर आपको उनके पैर देखकर लग रहा है कि वह जल्दी में है तो समझ जाएं की वह आपसे बचकर जल्दी कहीं जाना चाहते हैं।

Also Read: इन मौकों पर पार्टनर से लड़ाई करना पड़ सकता है भारी, गांठ बांध लें ये बात

सांसें

व्यक्ति के सांस लेने से भी पता लगाया जा सकता है कि वह झूठ बोल रहा है या नहीं। पार्टनर अगर बात करते समय गुस्सा कर रहा है या एटीट्यूड दिखा रहा है या फिर घबरा रहा है तो समझ जाएं कि दाल में कुछ काला है। झूठ बोलने पर हार्ट रेट और ब्लड फ्लो बढ़ जाता है, जिसके कारण झूठ बोलने वाला व्यक्ति तेज-तेज सांसे लेने लगता है।

दलील

अगर पार्टनर झूठ बोलता है और आपसे बचना चाहता है तो अपनी चीजों को छिपाने के लिए वह तरह-तरह की बातें बनाता है और दलीलें देता है। कई बार तो ऐसा होता है कि बात के साथ बॉडी लैंग्वेज मैच नहीं होती। बेचैनी झूठ बोलते वक्त व्यक्ति के चेहरे पर बेचैनी रहती है। ज्यादातर लोग जब झूठ बोलते हैं तो वह बार-बार अपने बाल या गर्दन को छूते रहते हैं।

Next Story