Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

तो ये हैं वो कारण, जिनकी वजह से पैदा होते हैं जुड़वा बच्चे

जुड़वा बच्चे दो तरह के होते हैं, जुड़वा बच्चों से जुड़ी बातों के लिए ये रिपोर्ट पढ़ें।

तो ये हैं वो कारण, जिनकी वजह से पैदा होते हैं जुड़वा बच्चे

क्या आपके मन कभी ये सवाल आता है कि ट्विंस बच्चे कैसे पैदा होते हैं? अगर आप इन दिनों प्रेग्नेंट होने की कोशिश में लगी हैं और आपको दो बच्चों की आस है तो हमारी इस रिपोर्ट में जानिए कि जुड़वा बच्चे कैसे पैदा होते हैं?

जुड़वा बच्चे भी दो तरह के होते हैं। एक मैनोजाइगॉटिक, इसमें दोनों बच्चे एक ही जैसे दिखते हैं और दूसरा डायजाइगॉटिक, इसमें दोनों बच्चे अलग-अलग दिखते हैं।

यह भी पढ़ें: ब्रेस्ट कैंसर कभी नहीं होगा, अगर महिलाएं ये 4 परहेज कर लें

ऐसे बनते हैं एक गर्भ में जुड़वा बच्चे

एक ही गर्भ में जुड़वा बच्चों का निर्माण तब होता एक स्पर्म एक ही एग को फर्टिलाइज करे और दो एम्ब्रीओ निर्माण करे तो एक शक्ल वाले जुड़वा बच्चे होते हैं। इसके अलावा जब दो अलग स्पर्म से दो एग फर्टिलाइज होते हैं, तो अलग-अलग शक्ल वाले जुड़वा बच्चे होते हैं।

यह भी पढ़ें: माइग्रेन के दर्द को मिनटों में ऐसे करें दूर, ये हैं टिप्स

ये हैं कुछ कंडीशंस, जिनमें जुड़वा बच्चों के साथ प्रेग्नेंट होने के होते हैं चांसेस

  • जुड़वा बच्चों का होना जेनेटिक हो सकता है। ज्यादातर अगर लड़की के परिवार में जुड़वा बच्चे हुए हों तो लड़की भी जुड़वा बच्चों के साथ प्रेग्नेंट हो सकती है।
  • जुड़वा बच्चों का होना आपकी हाईट और वेट पर भी डिपेंड करता है। अमेरिकम कॉलेज ऑफ अब्स्टेट्रिक्स एंड गाइनोकोलोजी में प्रकाशित एक स्टडी के मुताबिक हाईट और वेट भी एक कारण हो सकता है।
  • कुछ स्टडीज में यह सामने आया कि कई बार ज्यादा उम्र में मां बनने पर भी जुड़वा बच्चे होने के चांसेस होते हैं।
  • गर्भनिरोधक गोलियों का सेवन प्रेग्नेंसी को रोकने के लिए किया जाता है। लेकिन इसे रेगुलर खाने के बाद छोड़ देने से भी जुड़वा बच्चे होने की संभावना रहती है।
Next Story
Top