Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

इन वजहों से गर्भवती महिला को सोने में होती है दिक्कत, जानें प्रेग्नेंसी में सोने का सही तरीका

प्रेग्नेंट वूमन रात में सही तरह से नहीं सो पाती हैं। कई वजहों के कारण गर्भवती महिलाओं को रात में सही से नींद नहीं आती है, जिसके कारण उनकी नींद पूरी नहीं होती। ऐसे में बहुत जरूरी है कि रात को सोते वक्त किन बातों का ध्यान रखना चाहिए।

इन वजहों से गर्भवती महिला को सोने में होती है दिक्कत, जानें प्रेग्नेंसी में सोने का सही तरीका

प्रेग्नेंसी के दौरान हर महिला का विशेष ख्याल रखा जाता है। न सिर्फ महिला बल्कि उसकी पूरी फैमिली आने वाले बच्चे की केयर के लिए पूरी कोशिश करती हैं। लेकिन इसके बाद भी महिला को कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। ये तो सभी को मालूम है कि दिन भर की थकान रात में सोने से ही खत्म होती है।

लेकिन अगर बात की जाए गर्भवती महिला की तो प्रेग्नेंट वूमन रात में सही तरह से नहीं सो पाती हैं।

कई वजहों के कारण गर्भवती महिलाओं को रात में सही से नींद नहीं आती है, जिसके कारण उनकी नींद पूरी नहीं होती। ऐसे में बहुत जरूरी है कि रात को सोते वक्त किन बातों का ध्यान रखना चाहिए।

इन वजहों से रात में सो नहीं पाती गर्भवती महिलाएं

  • गर्भवती होने पर महिला को बार-बार पेशाब लगती है, जिसके कारण उनकी थोड़े-थोड़े समय में नींद खुलती रहती है।
  • सही तरह से खाना न पचने की वजह से अपच होती है, जो नींद खुलने का कारण बनती है।
  • बच्चे की मूवमेंट की वजह से रात में गर्भवती महिला की नींद खुल जाती है।
  • गर्भवती महिलाओं के पैरों में ऐठन की समस्या होती है, जो उनके नींद न आने का कारण बनती है।
  • सोने की आरामदायक स्थिति न मिलने की वजह से भी नींद नहीं आती है।
  • ज्यादा टेंशन और तनाव के कारण भी बार-बार नींद खुलती रहती है।

पीठ के बल सोना

गर्भवती महिलाओं को पीठ के बल नहीं सोना चाहिए। पीठ के बल सोने से पूरा दबाव बच्चे पर पड़ता है। इसके अलावा पीठ के बल सोने पर पीठ पर ज्यादा जोर पड़ता है, जिसके कारण पीठ दर्द, अपच, सांस लेने में दिक्कत जैसी समस्या हो सकती है।

तकिए का इस्तेमाल

गर्भवती महिलाएं रात में सुकूनभरी नींद के लिए तकिए का इस्तेमाल भी कर सकती हैं। कूल्हे के नीचे तकिया लगाकर सोने से आराम मिलता है।

करवट लेकर सोना

गर्भवती महिलाओं को ज्यादातर बाईं ओर करवट लेकर सोना चाहिए। इस तरह सोना महिला और उसके बच्चे दोनों के लिए फायदेमंद होता है। दाईं ओर करवट लेकर भी सोया जा सकता है, लेकिन ज्यादा से ज्यादा कोशिश करें कि बाईं ओर ही करवट लेकर सोएं।

Next Story
Top