Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पितृ पक्ष 2018 : पितृ पक्ष पर करना है तर्पण, तो घर पर बनाएं ये खास केसरी पेड़ा, जानें रेसिपी

27 सितंबर 2018 को पितृपक्ष का तीसरा श्राद्ध है। इस दिन लोग तृतीया पर मृत्यु को प्राप्त हुए पूर्वजों का तर्पण करते हैं। जिसमें परिवार के सदस्य दान और ब्राह्मण भोज के साथ तर्पण की विधि को पूरा करते हैं।

पितृ पक्ष 2018 : पितृ पक्ष पर करना है तर्पण, तो घर पर बनाएं ये खास केसरी पेड़ा, जानें रेसिपी
X

27 सितंबर 2018 को पितृपक्ष का तीसरा श्राद्ध है। इस दिन लोग तृतीया पर मृत्यु को प्राप्त हुए पूर्वजों का तर्पण करते हैं। जिसमें परिवार के सदस्य दान और ब्राह्मण भोज के साथ तर्पण की विधि को पूरा करते हैं।

इसलिए आज हम आपको पितृ पक्ष के तीसरे श्राद्ध के लिए घर पर आसानी से बनने वाली केसरी पेड़ा रेसिपी बताने जा रहे हैं।

यह भी पढ़ें : पितृ पक्ष 2018: ये हैं पितृ दोष कम करने के 5 उपाय,मन को मिलेगी शांति और कारोबार में होगा लाभ ही लाभ

केसरी पेड़ा रेसिपी की सामग्री :

थोड़े से केसर के रेशे

खोया/मावा 3 कप

चीनी 1 कप

लिक्विड ग्लुको़ज़ 2 छोटी चम्मच

पीला खाने का रंग 1 छोटी चम्मच

नारंगी खाने का रंग 1/2 छोटी चम्मच

इलायची का पाउडर चुटकी

पिस्ता बारीक कटा हुआ

यह भी पढ़ें : पितृ पक्ष 2018 : पितृ पक्ष में भूलकर भी न करें ये काम, वरना हो सकता है पितृ दोष

केसरी पेड़ा रेसिपी की विधि :

1. सबसे पहले एक बड़ी कढ़ाही में खोया और चीनी डालकर धीमी आँच पर लगातार चलाते हुए खोये के पिघलने और चीने के घुल जाने तक चलाते हुए भूनें, इसके साथ ही इसमें लिक्विड ग्लुकोज़ भी डालें और लगातार चलाते हुए कुछ देर पकाएँ।

2. अब इस मिश्रण में खाने का पीला और नारंगी रंग डालें और अच्छे से मिक्स करते हुए मिश्रण के गाढ़ा होने तक पकाएं या मिश्रण कढ़ाही के किनारे न छोड़ने लगे।

3. इस गाढ़े मिश्रण में छोटी इलायची पाउडर और केसर डालकर अच्छी तरह से मिक्स कर लें और मिश्रण को ठंडा होने के लिए रख दें।

4.अब मिश्रण के छोटे-छोटे टुकड़े बना लें और हाथ से एक-एक टुकड़े पेड़े की शेप बनाएं। इसके बाद पेड़े पर बारीक कटे हुए पिस्ता लगाएं और हल्का सा दबाकर फिक्स करें।

5. अब तैयार केसरी पेड़ों को प्लेट में निकालें और सर्व करें।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story