logo
Breaking

#PadmanEffect: 5 रुपए में मिल रहे हैं 2 सेनेटरी नैपकिन, बस करना होगा ये छोटा सा काम

पीरियड्स में कपड़ा यूज करना या कई घंटे तक एक ही पैड यूज करना सेहत के लिहाज से सही नहीं होता है। इस बात को ध्यान में रखते हुए जीएसटी और सेंट्रल एक्साइज ऑफिस ने स्कूल में स्वच्छता अभियान के तहत सैनिटरी पैड वेंडिंग मशीन लगाने का फैसला किया है।

#PadmanEffect: 5 रुपए में मिल रहे हैं 2 सेनेटरी नैपकिन, बस करना होगा ये छोटा सा काम

महिलाओं को हर महीने होने वाली पीरियड्स की समस्या एक नैचुरल प्रॉसेस है। महीने के 6-7 दिन हर महिला इस समस्या से रूबरू होती है। इतना ही नहीं पीरियड्स के दौरान महिलाओं को कई दिक्कतों का भी सामना करना पड़ता है।

इसके अलावा इंफेक्शन से बचने के लिए महिलाओं को हर तीसरे-चौथे घंटे सेनेटरी नैपकिन चेंज करना पड़ता है। लेकिन आज भी देश के कई राज्य ऐसे हैं, जहां 80% से ज्यादा महिलाएं पीरियड्स के दौरान कपड़ा यूज करती हैं।

यह भी पढ़ें: महिलाओं के पीरियड्स से जुड़े ये हैं 6 मिथक, जानें इनके पीछे की सच्चाई

पीरियड्स में कपड़ा यूज करना या कई घंटे तक एक ही पैड यूज करना सेहत के लिहाज से सही नहीं होता है। इस बात को ध्यान में रखते हुए जीएसटी और सेंट्रल एक्साइज ऑफिस ने स्कूल में स्वच्छता अभियान के तहत सैनिटरी पैड वेंडिंग मशीन लगाने का फैसला किया है। इसके तहत छात्राएं कभी भी मशीन से सेनेटरी पैड्स निकाल सकती हैं।

इन जगहों पर लग चुकी है मशीन

  • केरल के स्कूलों में सेनेटरी पैड वेडिंग मशीनें लग चुकी हैं।
  • भोपाल के रेलवे स्टेशन पर सेनेटरी नैपकिन वेंडिंग मशीन लगवाई गई है।
  • रायपुर रेलवे स्टेशन पर लगाई गई मशीन
  • दिल्ली के कुछ पब्लिक टॉयलेट्स में लगी चुकी है सेनेटरी नैपकिन वेंडिंग मशीन

यह भी पढ़ें: शर्मनाक! देश के इन राज्यों में 80% से ज्यादा महिलाएं पीरियड्स में यूज करती हैं कपड़ा

मशीन की खासियत

सेनेटरी नैपकिन वेंडिंग मशीन की खासियत यह है कि यह 24 घंटों उपलब्ध रहेगी। साथ ही महिलाओं को इस मशीन से 5 रुपए में अच्छी गुणवत्ता वाले 2 पैड्स मिलेंगे।

अगली स्लाइड्स में देखें सेनेटरी नैपकिन वेंडिंग मशीन यूज करने का तरीका...

Share it
Top