Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

प्राचीन समय से ही चलती आ रही है ''अंग प्रत्यारोपण'' विधा

वैश्विक स्तर पर स्वीकृत आयुर्वेद की उत्पत्ति भी भारत में ही हुई थी।

प्राचीन समय से ही चलती आ रही है अंग प्रत्यारोपण विधा
X

पाचन क्षमता

इसके अलावा यह भी बताया गया है कि हृदय का वजन 8 तोला, जीभ का 12 तोला और लिवर का वजन एक सेर होता है। गर्भ उपनिषद में यह भी उल्लिखित है कि प्रत्येक व्यक्ति के भोजन ग्रहण करने और उसे पचाने की क्षमता कभी भी समान नहीं होती।

Next Story