Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

इन 9 झूठ से तंग आ चुका है एलजीबीटी समुदाय!

यह गलत धारणा है कि यौन अभिविन्यास के लिए उनका रुख ''अप्राकृतिक'' होता है।

इन 9 झूठ से तंग आ चुका है एलजीबीटी समुदाय!
X

नई दिल्ली. एलजीबीटी समुदाय को लेकर सबके मन में कई सवाल रहते हैं। समाज में सम्मान और अपने हक के लिए लड़कर इन्होने थर्ड जेंडर का दर्जा तो पा लिया है, लेकिन यह बस कागजातों तक ही सीमित है। सड़कों पर आज भी इनके साथ वैसा ही व्यवहार किया जाता है, जैसे लोगों में मिथक बने हुए है। यह गलत धारणा है कि यौन अभिविन्यास के लिए उनका रुख 'अप्राकृतिक' होता है। उनसे हमेशा ऐसे सवाल पूछे जाते हैं जिनके उनके पास कोई जवाब ही नहीं होते हैं।

आइए जानते हैं उन झूठों क बारे में जिनसे खुद एलजीबीटी समुदाय तंग आ चुका है-

1- नेचुरल नहीं होती समलैंगिकता

शायद यह समलैंगिकता से जुड़ा सबसे आम मिथक है जो पूरी तरह से गलत भी है। आपको बता दें कि समलैंगिकता बिल्कुल हेटेरोसेक्सयल (विपरीत लिंगकामी) की तरह स्वाभाविक है। वास्तव में समलैंगिकता को जानवरों की सैकड़ों प्रजातियों में देखा गया है।

साभार इंडिया टाइम्स

आगे की स्लाइड में पढ़िए, खबरों से जुड़ी अन्य जानकारी-

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story