Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

नए साल में ऐसे रहें फिजिकली और मेंटली फिट

रोजमर्रा की जिंदगी में आज अधिकतर लोग अपना ख्याल नहीं रख पाते हैं।

नए साल में ऐसे रहें फिजिकली और मेंटली फिट
X
नई दिल्ली. आने वाले नए साल के लिए आपने अपनी स्टडीज, करियर या प्रोफेशनल लाइफ के लिए रेजोल्यूशन निश्चित कर लिए होंगे। लेकिन आपने इन टार्गेट्स को तब तक पूरा कर सकते हैं, जब आप मेंटली और फिजिकली फिट होंगे। इसलिए आने वाले साल में मेंटली-फिजिकली फिटनेस से रिलेटेड रेजोल्यूशन जरूर करें।
रोजमर्रा की जिंदगी में व्यस्तता बढ़ने के कारण अधिकतर लोग अपना ख्याल नहीं रख पाते हैं। खान-पान पर लापरवाही बरतते हैं। परिणामस्वरूप कई शारीरिक समस्याएं बढ़ जाती हैं। इससे कार्य-क्षमता की रफ्तार धीमी पड़ जाती है। इसलिए सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण है हमारा फिजिकली और मेंटली फिट रहना। यह तभी संभव है, जब हम अपनी डेली लाइफस्टाइल पर ध्यान दें और उसमें जरूरी बदलाव करें। नया साल शुरू होने वाला है। ऐसे में नई शुरुआत करने का यह सबसे सही टाइम है। इसके लिए आपको अपनी डाइट, फिटनेस और मेंटल हेल्थ से रिलेटेड रेजोल्यूशन लेने होंगे।
रेजोल्यूशन 1: हेल्दी डाइट
हेल्दी रहने के लिए सबसे जरूरी है कि हम अपनी डाइट को लेकर कॉन्शस रहें। अधिकतर यंगस्टर्स और बच्चे बैलेंस्ड और न्यूट्रीशस डाइट की जगह जंक फूड खाना पसंद करते हैं। यह आसानी से हर जगह उपलब्ध हो जाता है। लेकिन इस ईजिली अवेलेबल जंक फूड जैसे बर्गर, चाइनीज फूड आदि में तेल और ज्यादा मसालेदार पदार्थ शामिल होते हैं। जो हेल्थ के लिए ठीक नहीं होता है। इसके अलावा कुछ लोग जरूरत से ज्यादा भोजन करते हैं। ज्यादा भोजन ठीक से पच नहीं पाता है। जिसका पाचन-क्रिया पर विपरीत प्रभाव पड़ता है। इस स्थिति में यह फैट के रूप में स्टोर हो जाता है। इससे मोटापा और डायबिटीज जैसी बीमारी होने की संभावना बढ़ जाती है।
हो सकती हैं प्रॉब्लम्स
जंक फूड का नेगेटिव असर हमारी इम्यूनिटी सिस्टम पर पड़ता है। इम्यूनिटी सिस्टम के प्रॉपर्ली काम न करने पर हम धीरे-धीरे शारीरिक रूप से कमजोर होने लगते हैं। इतना ही नहीं, कुछ लोग कई बार सुबह का नाश्ता या दोपहर का भोजन स्किप कर देते हैं। भोजन न करने पर शरीर को र्प्याप्त ऊर्जा नहीं मिल पाती है। इससे रोगों से लड़ने की क्षमता में गिरावट आनी शुरू हो जाती है। इसी तरह डाइट में लापरवाही से डायबिटीज हो सकता है, जिसमें शरीर में शुगर लेवल बढ़ जाता है। लापरवाही बरतने पर इसके कारण अंधापन, हार्ट अटैक और लकवा जैसी गंभीर समस्याएं हो सकती हैं। एल्कोहल और स्मोकिंग का सेवन भी स्वास्थ्य के लिए बहुत हानिकारक है।
सजेशन
पी.एस.आर.आई हॉस्पिटल, दिल्ली की डायटीशियन देबजानी बनर्जी का कहना है कि जहां तक संभव हो शरीर की इम्यूनिटी सिस्टम को स्वस्थ रखने के लिए जंक फूड से दूरी बनाना ही बेहतर है। इसकी जगह न्यूट्रीशंस डाइट जैसे हरी पत्तेदार और ताजा सब्जियों को शामिल करें। भोजन के साथ सलाद अवश्य लें। इससे जहां शरीर में पानी की पूर्ति होगी, वहीं पाचन-क्रिया भी अच्छी होगी। अगर आप अपनी डाइट को तय नहीं कर पा रहे हैं तो किसी डाइटीशियन द्वारा तैयार डाइट चार्ट का अनुसरण करें। इससे डाइट नियंत्रित करने में बहुत मदद मिलेगी। मोटापे के लिए आप वसा वाले फूड के सेवन से बचें। भूख लगने पर भोजन अवश्य करें लेकिन जरूरत से ज्यादा खाना न खाएं। डायबिटीज के लिए आप शुगर लेवल कम करने वाले शुगर फ्री फूड आइटम्स का इस्तेमाल करें।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story