Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

मोबाइल की वजह से बढ़ रहा है गर्दन और पीठ का दर्द

शोध के मुताबिक बीते कुछ सालों में युवाओं में गर्दन व पीठ दर्द की समस्या वाले मरीजों की संख्या में काफी बढ़ोतरी हुई है।

मोबाइल की वजह से बढ़ रहा है गर्दन और पीठ का दर्द

अगर आप भी दिन में ज्यादातर समय अपने मोबाइल पर बिताते हैं तो तत्काल इससे छुटकारा पा लें क्योंकि हाल ही में एक शोध में खुलासा हुआ है कि लंबे समय तक स्मार्टफोन का उपयोग करने से स्लीप डिस्क या डिस्क एलाइनमेंट की समस्या पैदा हो सकती है, जिससे आपको पीठ और गर्दन में दर्द की समस्या हो सकती है।

शोध के मुताबिक बीते कुछ सालों में युवाओं में गर्दन व पीठ दर्द की समस्या वाले मरीजों की संख्या में काफी बढ़ोतरी हुई है।

'द स्पाइन जर्नल' में प्रकाशित शोध रिपोर्ट के मुताबिक सामान्यत: जब हम आगे देखते हैं तो रीढ़ की हड्डी पर सिर का वजन चार से पांच किलो पड़ता है और जब 15 डिग्री तक झुकाते हैं तो स्पाइन पर यह भार 12 किलो तक बढ़ जाता है।

लेकिन मोबाइल के उपयोग के समय आमतौर पर यूजर अपनी गर्दन को 60 डिग्री तक झुका लेते हैं, जिससे स्पाइन पर करीब 27 किलोग्राम का तनाव आ जाता है।

इस शोध को तैयार करने में सहयोगी रहे लॉस एंजिलिस स्थित एक मेडिकल सेंटर के स्पाइन न्यूरोसर्जन ने कहा कि लोग आज-कल लंबे समय तक गर्दन झुकाकर अपने मोबाइल में देखते हैं।

इसके अलावा शोध से जुड़े डॉ. टॉड लानमैन ने भी कहा कि ज्यादातर लोग टेक्स्ट मैसेज करते समय या वीडियो देखते समय काफी गर्दन झुका लेते हैं, जिससे स्पाइन पर काफी दबाव पड़ता है।

इस समस्या से बचने के लिए शोधकर्ताओं ने सामान्य सलाह दी है कि जब भी मोबाइल का उपयोग करे तो उसे आंखों के सामने रख कर देखें। जहां तक संभव हो गर्दन को ज्यादा झुकाने से बचें।

Next Story
Top