Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

इस नवरात्रि इन 5 चीजों को खाएं और एसिडिटी को कहें बाय-बाय

व्रत के इस सीजन में जानिए कि किन चीजों को खाने से आपको एसिडिटी की समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा।

इस नवरात्रि इन 5 चीजों को खाएं और एसिडिटी को कहें बाय-बाय

नवरात्रि में व्रत रहने वाले ज्यादातर लोगों को इन दिनों एसिडिटी की समस्या रहती है। ऐसा इसलिए क्योंकि अधिकतर लोग फलाहार के रूप में आलू और मूंगफली का इस्तेमाल करते हैं, जिनसे एसिडिटी होती है।

व्रत के इस सीजन में जानिए कि किन चीजों को खाने से आपको एसिडिटी की समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा। दि हेल्थ साइट की रिपोर्ट के मुताबिक कुछ ऐसे फलाहार हैं, जिनके सेवन से एसिडिटी नहीं होती है।

यह भी पढ़ें: नवरात्रि स्पेशल रेसिपी: फ्राई आलू नहीं, अब बनाएं आलू का हलवा

केला

केला एसिडिटी को कम करने के लिए सबसे सही माना जाता है। केले में पोटैशियम की मात्रा अधिक होती है, जो एसिडिटी को दूर करने में मदद करता है। साथ ही केले के सेवन से शरीर में पीएच लेवल का संतुलन भी बना रहता है। केले में मौजूद फाइबर बार-बार एसिडिटी होने से बचाता है।

नारियल पानी

अगर एसिडिटी है तो व्रत के दौरान नारियल पानी का सेवन करना फायदेमंद रहता है। नारियल पानी के सेवन से शरीर में बनने वाला टॉक्सिन जल्द ही शरीर से बाहर निकल जाता है और इससे एसिडिटी खत्म हो जाती है। नारियल पानी से शरीर का पीएच लेवल भी संतुलित रहता है।

यह भी पढ़ें: नवरात्रि स्पेशल रेसिपी में आज घर पर ट्राई करें केले की चिप्स

ठंडा दूध

व्रत में ठंडा दूध पीने से आपको एसिडिटी परेशान नहीं करेगी। ठंडा दूध पेट में बनने वाली एसिडिटी को खत्म करता है। एसिडिटी से छुटकारा पाने के लिए दूध में बिना कुछ मिलाएं इसका सेवन करें।

दही या छाछ

जिस तरह दूध एसिडिटी को कम करने में मददगार होता है, ठीक उसी तरह दूध से बना पदार्थ जैसे दही या छाछ भी कारगर होता है। दही या छाछ के सेवन से पेट में ठंडक बनी रहती है और एसिडिटी नहीं होती।

गर्म पानी

पानी वैसे भी कई बीमारियों का हल है। ज्यादा पानी पीने से पेट की बीमारियां नहीं होती है। व्रत के दौरान कोशिश करें कि गर्म पानी का सेवन करें। गर्म पानी पीने से पेट में बनने वाले टॉक्सिन जल्द शरीर से बाहर हो जाता है और एसिडिटी होने की संभावना कम रहती है।

Next Story
Top