Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

दुर्गा पूजा पर मां को लगाएं स्पेशल साबूदाने के पकौड़े का भोग, जानें रेसिपी

आमतौर पर लोग व्रत और उपवास में समा के चावल की खीर, खिचड़ी, कूट्टू और सिघाड़े के आटे की पूड़ी और कचौड़ी का स्वाद चखा होगा। कई लोग व्रत में साबूदाने की खीर, साबूदाने की खिचड़ी को खाना पसंद करते हैं। अगर ऐसे हम आपको साबूदाने से एक ऐसी चटपटी डिश बताएं जिससे आपकी चाय का जायका भी बढ़ जाए तो आप बार-बार व्रत रखना चाहेंगे।

दुर्गा पूजा पर मां को लगाएं स्पेशल साबूदाने के पकौड़े का भोग, जानें रेसिपी

आमतौर पर लोग व्रत और उपवास में समा के चावल की खीर, खिचड़ी, कूट्टू और सिघाड़े के आटे की पूड़ी और कचौड़ी का स्वाद चखा होगा। कई लोग व्रत में साबूदाने की खीर, साबूदाने की खिचड़ी को खाना पसंद करते हैं।

अगर ऐसे हम आपको साबूदाने से एक ऐसी चटपटी डिश बताएं,जिससे आप बार-बार व्रत रखना चाहेंगे, इसलिए आज हम आपको सादे, करारे और आसान साबूदाने के पकौड़े की रेसिपी बता रहे हैं।

यह भी पढ़ें : नवरात्रि में चाय के साथ खा सकते हैं आलू के स्पाइसी नमकपारे, जानें रेसिपी

साबूदाने के पकौड़े की सामग्री :

साबूदाना 1 कप

आलू 2 कप

सिंगदाना 2 बड़े-चम्मच

राजगीरा (सिंघारे का आटा)1/2 कप

हरी मिर्च 1/2 चम्मच

अदरक 1 चम्मच

निम्बू का रस 1 बड़ा-चम्मच

धनिया पत्ती 1/2 कप

नमक स्वादानुसार

तेल 3 कप तलने के लिये

यह भी पढ़ें : नवरात्रि 2018 : सिघाड़े के आटे के स्पेशल पनीर की टिक्की से नवरात्रि को बनाएं यादगार, ये है रेसिपी

साबूदाने के पकौड़े की विधि :

1. साबूदाने को अच्छे से धो कर रात भर या फिर 4 से 5 घंटे तक भिगो दें।

2. पहले से उबले आलू को अच्छे से मसल लें।

3. अब एक कढ़ाही में साबूदाने को हल्का गर्म कर लें, फिर उसका छिलका उतार कर उसे मिक्सर में दरदरा पीस लें।

4. इसके बाद पीसे हुए साबूदाने को उबले और मसले आलू के साथ अच्छे से मिक्स करें।

5. अब इस मिश्रण में सिघाड़े का आटा या राजगीरा का आटा मिलाएं।

6. इसके बाद मिश्रण में हरी मिर्च, अदरक, नींबू का रस,बारीक कटा हुआ हरा धनिया और नमक मिलाएं।

7. अब इस मिश्रण को छोटी-छोटी बॉल्स बना लें ।

8. इसके बाद एक कढ़ाही में तेल गर्म करें और

9. साबूदाने के मिश्रण की पहले से बनी रखी बॉल्स को धीरे-धीरे कढ़ाही में डालें और सुनहरा होने तक दोनों तरफ से सेंके।

10. अब तैयार साबूदाने के पकौड़ों को एक प्लेट में निकालें और हरी चटनी के साथ गर्मागर्म सर्व करें।

Next Story
Top