Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

इन जगहों पर 25 दिसंबर को नहीं इस दिन मनाया जाता है क्रिसमस, जानें क्यों

क्रिसमस 25 दिसंबर को प्रभु ईसा मसीह के जन्म दिन के रूप में मनाया जाता है। आपने भी अब तक यही जाना होगा कि 25 दिसंबर को ही क्रिसमस मनाया जाता है।

इन जगहों पर 25 दिसंबर को नहीं इस दिन मनाया जाता है क्रिसमस, जानें क्यों
X

क्रिसमस 25 दिसंबर को प्रभु ईसा मसीह के जन्म दिन के रूप में मनाया जाता है। आपने भी अब तक यही जाना होगा कि 25 दिसंबर को ही क्रिसमस मनाया जाता है।

लेकिन दुनिया में कुछ ऐसे देश जहां 25 दिसंबर को नहीं बल्कि दूसरे किसी दिन क्रिसमस सेलिब्रेट किया जाता है।

जी हां, रूस के कुछ इलाकों में और मध्य पूर्वी हिस्से के कुछ देशों में क्रिसमस 25 दिसंबर को नहीं बल्कि 13 दिन बाद यानि 7 जनवरी को मनाया जाता है।

बाद में मनाने का कारण

दरअसल दुनिया के ज्यादातर हिस्सों में 1582 में पोप ग्रेगोरी द्वारा बनाए गए कैलेंडर का यूज किया जाता है। इस कैलेंडर के मुताबिक 25 दिसंबर को ही क्रिसमस आता है। लेकिन कुछ मध्य पूर्वी देशों में अभी भी 'जूलियन' कैलेंडर यूज होता है। जूलियन कैलेंडर में 25 दिसंबर का दिन हमारे कैलेंडर के मुताबिक 7 जनवरी को आता है। यही कारण है कि ये देश 7 जनवरी को क्रिसमस सेलिब्रेट करते हैं। इन देशों में बेलारूस, मिस्र, इथोपिया, गॉर्गिया, कजाकिस्तान, सर्बिया और रूस शामिल है।

यह भी पढ़ें: गजब! 27 सालों से इस गांव में नहीं आया कोई मर्द, फिर भी महिलाएं हो रही प्रेग्नेंट!

इटली में इस दिन सेलिब्रेट होता है क्रिसमस

सिर्फ इटली ही एक मात्र ऐसा देश है जहां क्रिसमस न तो 25 दिसंबर को मनाया जाता है और न 7 जनवरी को। यहां 6 जनवरी को क्रिसमस सेलिब्रेट किया जाता है। इटली में क्रिसमस 'द फीस्ट ऑफ एपिफेनी' नाम से मनाया जाता है।

ये है कारण

ऐसा कहा जाता है कि प्रभु यीशू के पैदा होने के 12वें दिन तीन ज्ञानी उन्हें अपना आशीर्वाद और उपहार देने गए थे। इसी दिन को याद करते हुए 6 जनवरी को इटली में क्रिसमस मनाया जाता है। यहां सांता क्लॉज गिफ्ट देने के लिए नहीं आते। उनका फिमेल रूप 'बेनाफा' गिफ्ट बांटती है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story