Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

ये हैं चावल से जुड़े 5 झूठ, जिन्हें अक्सर सच मानते हैं सभी

अक्सर आपने चावल के गुणों से ज्यादा उसके अवगुणों और चावल के सेवन पर बरती जानें वाली हिदायतों या सावधानियों के बारे में सुना होगा। इसके साथ ही घर के बड़े-बुजुर्गों को बच्चों को चावल खाने और खाने के वक्त से जुड़ी बातें और नियम बताते हुए देखा होगा। यही नहीं, सफेद चावल और भूरे चावल यानि ब्राउन राइस में भी फर्क किया जाता है। ब्राइन राइस को सफेद चावल यानि व्हाइट राइस से ज्यादा हेल्दी और सेहतमंद माना जाता है। रात को चावल खाने से नींद आने में दिक्कत होना, चावल खाने से मोटापा बढ़ता है। डायबिटीज वाले पेशेंट्स के लिए चावल खाना बेहद खतरनाक माना जाता है।

ये हैं चावल से जुड़े 5 झूठ, जिन्हें अक्सर सच मानते हैं सभी

अक्सर आपने चावल के गुणों से ज्यादा उसके अवगुणों और चावल के सेवन पर बरती जानें वाली हिदायतों या सावधानियों के बारे में सुना होगा। इसके साथ ही घर के बड़े-बुजुर्गों को बच्चों को चावल खाने और खाने के वक्त से जुड़ी बातें और नियम बताते हुए देखा होगा। यही नहीं, सफेद चावल और भूरे चावल यानि ब्राउन राइस में भी फर्क किया जाता है। ब्राइन राइस को सफेद चावल यानि व्हाइट राइस से ज्यादा हेल्दी और सेहतमंद माना जाता है। रात को चावल खाने से नींद आने में दिक्कत होना, चावल खाने से मोटापा बढ़ता है। डायबिटीज वाले पेशेंट्स के लिए चावल खाना बेहद खतरनाक माना जाता है।

आपको बता दें कि चावल, कार्बोहाइड्रेट का सबसे अच्छा स्रोत होता है। जिसकी वजह से शरीर चावल खाने के बाद इंस्टेट एनर्जी फील करता है। क्योंकि
कार्बोहाइड्रेट शरीर में एनर्जी (ऊर्जा) को बढ़ाने का काम करता है। इसके अलावा चावल में मौजूद गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल ट्रैक्ट ग्लूकोज में बदल जाता है। चावल में कार्बोहाइड्रेट के साथ ही मैंगनीज, सेलेनियम, फास्फोरस और मैग्नीशियम जैसे पौषक तत्व भी पाए जाते हैं। इसलिए आज हम आपको चावल से जुड़े हुए खास 5 झूठ यानि मिथ को बता रहें हैं। जिससे आप चावल का जब चाहें बनाकर खाने का स्वाद बढ़ा सकते हैं।

Myths and Facts: चावल से जुड़े झूठ या मिथक...

1. Myths and Facts: चावल से जुड़ा झूठ या मिथक नं.1

चावल खाने से मोटापा बढ़ता है। आमतौर पर लोग मानते हैं कि चावल का ज्यादा सेवन करने से मोटापा बढ़ता है। जबकि ये सिर्फ एक झूठ है। जी हां, चावल में वसा यानि फैट और फाइबर कम पाया जाता है। जिसकी वजह से ये पचाने में बेहद आसान होता है। चावल में कार्बोज यानि कार्बोहाइड्रेट प्रचुर मात्रा में होता है। जिससे शरीर को तुरंत एनर्जी मिलती है। इसके साथ ही चावल खाने से शरीर में कोलेस्ट्राल की समस्या भी नहीं होती है।

Myths and Facts: चावल से जुड़ा झूठ या मिथक नं. 2

आमतौर पर माना जाता है कि चावल में ग्लूटन नामक तत्व पाया जाता है। जिससे शरीर में एलर्जी होने का खतरा बढ़ता है। लेकिन ये सिर्फ एक भ्रांति और झूठ है। चावल में ग्लूटन तत्व नहीं होता है। जिसकी वजह से डायबिटीज और वजन घटाने वाले लोग भी चावल का सेवन कर सकते हैं। क्योंकि ग्लूटन तत्व को डायबिटीज और वजन घटाने के लिए बेहद खतरनाक माना जाता है।

Myths and Facts: चावल से जुड़ा झूठ या मिथक नं. 3

अक्सर खुद को फिट रखने वाले लोग चावल का सेवन इसलिए नहीं करते हैं,क्योंकि चावल में प्रोटीन नहीं होता है। चावल में प्रोटीन नहीं होने वाली बात भी सिर्फ एक झूठ है। क्योंकि चावल के एक कप में लगभग 165 कैलोरी और 3-4 ग्राम प्रोटीन होता है। इसके साथ ही चावल में मैंगनीज, सेलेनियम, फास्फोरस, मैग्नीशियम, कम मात्रा में फाइबर, विटामिन और खनिज पाए जाते हैं।

Myths and Facts: चावल से जुड़ा झूठ या मिथक नं.4

आमतौर पर रात में चावल खाने को नुकसानदायक माना जाता है। क्योंकि चावल की तासीर ठंडी होती है। लेकिन रात में सीमित मात्रा में चावल का सेवन करने से रात को नींद अच्‍छी आती है साथ ही चावल आसानी से पच जाता है। इससे शरीर में लेप्टिन संवेदनशीलता बढ़ जाती है. लेप्टीन एक फैटी टिश्यू के जरिए उत्पादित होता है जो शरीर में वसा भंडारण (फैट स्टोरेज) को कंट्रोल करता है।

Myths and Facts: चावल से जुड़ा झूठ या मिथक नं. 5

माना जाता है कि चावल में नमक यानि सोडियम उच्च मात्रा में पाया जाता है। जिसके ज्यादा सेवन करने से बी.पी संबंधित बीमारी होने का खतरा बढ़ जाता है। जबकि ये एक मिथ या झूठ है। जबकि चावल में सोडियम बेहद ही कम मात्रा में पाया जाता है। जिससे शरीर को किसी तरह का कोई नुकसान नहीं पहुंचता है।
Next Story
Top