logo
Breaking

मसल्स पेन से पाना है छुटकारा तो करें ये काम, मिनटों में दिखेगा असर

मसल्स पेन की समस्या आम हो गई है। शरीर में अकड़न, मांसपेशियों में तनाव, गर्दन और पीठ में दर्द की समस्या आजकल बहुत कॉमन हो गई है। वर्किंग वूमेन इन समस्याओं से ज्यादा ग्रस्त हो रही हैं।

मसल्स पेन से पाना है छुटकारा तो करें ये काम, मिनटों में दिखेगा असर

मसल्स पेन की समस्या आम हो गई है। शरीर में अकड़न, मांसपेशियों में तनाव, गर्दन और पीठ में दर्द की समस्या आजकल बहुत कॉमन हो गई है। वर्किंग वूमेन इन समस्याओं से ज्यादा ग्रस्त हो रही हैं। इनसे निजात पाने के लिए रेग्युलर स्ट्रेचिंग एक्सरसाइज करना जरूरी है। कुछ खास तरह की स्ट्रेचिंग एक्सरसाइज के बारे में फिटनेस ट्रेनर अमरेश ओझा पूरी जानकारी दे रहे हैं।

कामकाजी महिलाओं को घर और आॅफिस दोनों जगहों की जिम्मेदारी निभानी पड़ती है। ऐसे में एक्सरसाइज का समय निकालना उनके लिए मुश्किल होता है। लेकिन एक्सरसाइज न करने से उन्हें गर्दन, कमर और पीठ दर्द की समस्या होने लगती है। अगर आप वर्किंग हैं तो खुद को इन समस्याओं से बचाने के लिए आॅफिस या घर में भी बैठे-बैठे कुछ स्ट्रेचिंग एक्सरसाइज कर सकती हैं।

शोल्डर रेज

यह एक्सरसाइज आप कहीं भी कर सकती हैं। कुर्सी पर बैठे हुए या खड़े होकर खाना बनाते समय। जितना संभव हो, कंधों को ऊपर की ओर उचकाएं। ऐसा करने से गर्दन और कंधों पर खिंचाव महसूस होगा। अपनी क्षमता के हिसाब से इस अवस्था में रुकें। कुछ देर बाद सामान्य अवस्था में आ जाएं। इस स्ट्रेचिंग एक्सरसाइज को 3-4 बार दोहराएं। शोल्डर रेज से गर्दन में अकड़न दूर होती है।

यह भी पढ़ें: लूज मोशन में भूलकर भी न खाएं ये 5 चीजें

आर्म स्ट्रेचिंग

अपनी दोनों आर्म्स को अपने सिर के ऊपर कीजिए, जिससे हाथ की हथेलियां आकाश की तरफ रहें। आर्म्स को थोड़ा और ऊपर खींचें और कंधों के समानांतर फैला लीजिए, हाथ की हथेलियों और अंगुलियों को ऊपर-नीचे और दाएं-बाएं करें। इससे आपके हाथों को आराम मिलेगा। इसी तरह कंधों को रिलैक्स करने के लिए अपने हाथों को कंधों के समानांतर कर लीजिए। अब अंगूठे से छोटी अंगुली के निचले भाग को छूएं। कंधों को क्लॉक वाइज और एंटी क्लॉक वाइज घुमाएं। ऐसा कुछ देर तक ही करें।

बैक स्ट्रेच

सीधे खड़े हो जाएं और हथेलियों को कमर पर रखें। हल्के से कमर को आगे की ओर धकेल लें। इस अवस्था में आपके घुटने थोड़े से मुड़े होने चाहिए। इस अवस्था में 10 सेकेंड तक रहें। फिर सामान्य अवस्था में वापस आ जाएं। इस क्रिया को 2 या इससे ज्यादा बार दोहराएं। कमर और गर्दन की मांसपेशियों में खिंचाव बनेगा, जिससे अकड़न कम होगी।

हेड बेंड

इस स्ट्रेच में बॉडी सीधी रखें। गर्दन में तनाव नहीं होना चाहिए। धीरे-धीरे गर्दन को दार्इं ओर झुकाएं। इस पोजिशन में 10 सेकेंड तक होल्ड करें। इसी प्रोसेस को बार्इं ओर से भी दोहराएं। आखिर में गर्दन को आगे और पीछे की ओर झुकाएं। कम से कम 10 से 15 बार इस एक्सरसाइज को करें। इसे नियमित वर्कआउट शेड्यूल में शामिल करें।

यह भी पढ़ें: सावधान! प्रोटीन की कमी से पहले शरीर में होते हैं ये बदलाव

लेफ्ट-राइट

यह स्ट्रेचिंग एक्सरसाइज आप सीधे खड़े या बैठकर कर सकती हैं। सुविधा अनुसार पोजिशन तय करें और सामने की ओर देखें। अब ठोड़ी को दाएं कंधे की ओर ले जाएं और कुछ देर बाद सामान्य स्थिति में लौट आएं। ऐसा 10 से 12 बार करें। कोशिश करें कि कम से कम 10 सेकेंड तक इस अवस्था में रहें। इसी प्रक्रिया को आप बार्इं तरफ से भी दोहराएं। लेफ्ट-राइट के नियमित अभ्यास से गर्दन की मांसपेशियों को आराम मिलता है।

इन्हें भी आजमाएं

हाथ की हथेलियों को अपनी छाती के पास ले जाएं। कंधों को स्थिर रखते हुए हाथ की हथेली से छाती पर दबाव डालें। अब हाथ को बदल लें और दूसरे हाथ से इसी क्रिया को दोहराएं। इससे हाथ को आराम मिलेगा। अपने दोनों हाथों के अंगूठे को छाती के बिल्कुल सामने लेकर आएं। अब उन्हें दोनों दिशाओं में कई बार घुमाएं। इसके बाद दोनों हाथों की अंगुलियों को दबाएं और छोड़ दें, इस प्रक्रिया को कई बार करें। इससे आपकी अंगुलियां भी रिलैक्स होंगी।

रखें ध्यान

  • गाड़ी चलाते समय पीठ को सीधा रखें
  • बहुत नरम गद्दे पर न सोएं
  • कम ऊंचे तकिए का प्रयोग करें
  • पौष्टिक भोजन खाएं, खासकर ऐसा भोजन जो विटामिन डी और कैल्शियम से भरपूर हो
  • तेज दर्द होने पर गरम पानी में नमक डालकर गर्दन की सिंकाई करें
Share it
Top