Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

दिल के मरीजों के लिए जानलेवा साबित हो सकती है झुलसाने वाली गर्मी, इन बातों का रखें ध्यान

इन दिनों गर्मी अपनी चरम सीमा पर है। तपाने और झुलसा देने वाली गर्मी में हर व्यक्ति को एहतियात बरतने की जरूरत है। लेकिन अगर बात करें दिल के मरीजों की तो उन्हें इन दिनों ज्यादा ध्यान रखना पड़ेगा। ज्यादा तेज गर्मी में दिल का दौरा पड़ने के चांसेस बढ़ जाते हैं।

दिल के मरीजों के लिए जानलेवा साबित हो सकती है झुलसाने वाली गर्मी, इन बातों का रखें ध्यान

इन दिनों गर्मी अपनी चरम सीमा पर है। तपाने और झुलसा देने वाली गर्मी में हर व्यक्ति को एहतियात बरतने की जरूरत है। लेकिन अगर बात करें दिल के मरीजों की तो उन्हें इन दिनों ज्यादा ध्यान रखना पड़ेगा। ज्यादा तेज गर्मी में दिल का दौरा पड़ने के चांसेस बढ़ जाते हैं।

दरअसल सामान्य व्यक्ति का बॉडी टेम्परेचन 37 डिग्री सेल्सियस होता है। तापमान बढ़ने पर शरीर पसीना और रक्त वाहिकाओं को डाइलेट करके शरीर को ठंडा रखने का प्रयास करता है।

अगर तापमान बहुत ज्यादा होता है तो ऐसा होने में दिक्कत होती है और रक्त वाहिका का आकार बढ़ जाता है।

इसके कारण दिल की धड़कन तेज हो जाती है और साथ ही ब्लड प्रेशर कम होने लगता है। यही वजह है कि दिल के मरीजों के लिए दिक्कत बढ़ जाती है।

दिल पर ऐसे पड़ता है असर

  • जिनका दिल कमजोर होता है वह शरीर को ठंडा रखने के लिए सही तरह से रक्त को पंप नहीं कर पाते हैं।
  • पर्याप्त मात्रा में रक्त पंप न होने की वजह से ब्लड प्रेशर नॉर्मल नहीं रहता।
  • ब्लड प्रेशर के कारण शरीर का तापमान लगातार बढ़ता जाता है।
  • यही कारण है कि ज्यादा तापमान बढ़ने पर हार्ट अटैक के चांसेस ज्यादा हो जाते हैं।

रखें इन बातों का ध्यान

  • धूप में न निकलें
  • ज्यादातर ठंडे वातावरण में रहने की कोशिश करें
  • ज्यादा से ज्यादा तरल पदार्थों का सेवन करें

इन लक्षणों को न करें नजरअंदाज

  • तेज सिर दर्द
  • ज्यादा पसीना आना
  • स्किन का ठंडा और नमीयुक्त रहना
  • गर्मी में भी ठंड लगना
  • चक्कर आना और जी मिचलाना
  • कमजोरी फील होना
  • तेज नर्व्स चलना
  • सांस लेने में तकलीफ और मांसपेशियों में ऐंठन होना
Next Story
Top