Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पीरियड्स के 6 मिथ, लेकिन ये सच जानना है जरूरी

हर साल 28 मई को पूरे देश में इस दिन को सेलिब्रेट किया जाता है।

पीरियड्स के 6 मिथ, लेकिन ये सच जानना है जरूरी
X

मेन्स्ट्रूअल हाइजीन डे(मासिक धर्म) हर साल 28 मई को पूरे देश में सेलिब्रेट किया जाता है। इस दिन लोगों को हर महीने होने वाले महिलाओं को पीरियड्स के प्रति जागरूक किया जाता है।

पीरियड्स के दिनों में कैसे हाइजीन का ख्याल रखना चाहिए ये भी महिलाओं को तक मैसेज पहुंचाना जाता है। लोग भारत जैसे देश में काफी कुछ बदलने के बाद अभी भी पीरिड्स को लेकर बात करना शर्मनाक मानते हैं। चाहे पुरुष हो या महिला।

महिलाओं को हर महीने होने वाले पीरियड्स को लेकर मिथ आज भी प्रचलित है...

1. रसोई में नहीं जा सकते, मंदिर में जाना मना है, पूजा नहीं करना, यहां तक कि दूसरों के साथ बैठ भी नहीं सकते।

2. इस दौरान महिलाओं को अपवित्र माना जाता है।

3. आचार छूना नहीं चाहिए। क्योंकि आचार खराब हो जाता है। खाने से भी मना किया जाता है।

4. पीरियड्स के दिनों में शैम्पू नहीं करना चाहिए इससे सीधे यूटेरस पर असर पड़ता है और बाद में मां बनने में परेशानी उठानी पड़ती है।

5. घर से बाहर नहीं जाना चाहिए।

6. आपको एक्सरसाइज नहीं करनी चाहिए इससे आपके शरीर पर बुरा प्रभाव पड़ता है।

लेकिन इन मिथ में कोई सच्चाई नहीं है। ये लोगों की बनाई गई बातें हैं। उससे ज्यादा कुछ नहीं।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story