Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

50 की उम्र में भी पार्टनर को रखना है खुश, तो अपनाएं ये टिप्स

बच्चे की जिम्मेदारी के बाद कपल्स एक-दूसरे का ध्यान नहीं रख पाते।

50 की उम्र में भी पार्टनर को रखना है खुश, तो अपनाएं ये टिप्स
X

कपल्स के पैरेंट बनने के बाद सब कुछ बदल जाता है। बच्चे की जिम्मेदारी के कारण कपल्स आपस में एक-दूसरे का ध्यान नहीं रख पाते। इसका असर उनके रिलेशनशिप पर पड़ता है।

दी हेल्थ साइट की रिपोर्ट के मुताबिक यह उन लोगों के लिए ज्यादा हार्मफुल हो जाता है, जो कपल्स शादी के तुरंत बाद ही पैरेंट बन जाते हैं। शादी के एक साल के ही अंदर बच्चा हो जाना उनके रिलेशन को डिस्बैलेंस कर देता है। जानिए बच्चे के कारण कैसे माता-पिता में होती है नोंक-झोंक

यह भी पढ़ें: स्टडी: सबसे ज्यादा दिल्ली के लोग देखते हैं एडल्ट वीडियो

कपल टाइम को भूलना

आमतौर पर बच्चे की देख-रेख करते हुए पैरेंट्स अपने कपल टाइम को भूल जाते हैं। ऐसे में अगर आप चाहते हैं कि बच्चे के बाद भी आपका रिश्ता पहले जैसे ही रहे, तो आप अपने कपल टाइम को याद करते रहें।

पैरेंटिंग स्टाइल को लेकर नोंक-झोंक

न्यू पैरेंट्स अपने तरीके से बच्चे को पालना चाहते हैं। ऐसे में बेबी की केयर को लेकर वह अपने पार्टनर का भी इंटरफेयरेंस पसंद नहीं करते। इसी कारण कपल्स के बीच नोंक-झोंक होती हैं।

यह भी पढ़ें: कपल्स को देखकर ये सब सोचती हैं सिंगल लड़कियां

फाइनेंशियल डिसीजन

बेबी के पहले कपल्स फाइनेंस को लेकर उतने सजग नहीं रहते और काफी लग्जीरियस लाइफ जीते हैं। बच्चे के बाद कई मायनों में उनके फाइनेंशियल डिसीजन मैच नहीं करते, जिसके कारण उनमें तकरार होता है। ऐसे में आपस की सूझ-बूझ के साथ फाइनेंशियल डिसीजन लें।

पैरेंटिंग स्टाइल में कमी निकालना

बेबी के बाद आप पर पैरेंट होने की पहली जिम्मेदारी आती है। ऐसे में जब कपल्स एक-दूसरे की पैरेंटिंग स्टाइल पर सवाल खड़ा करते हैं या प्वाइंट आउट करते हैं, तो इस कारण भी उनमें नोंक-झोंक होता है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story