Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सावधान! मैदा खाने से होती हैं ये जानलेवा बीमारियां

मैदा का इस्तेमाल ज्यादातर फास्टफूड और चटपटे स्नैक्स जैसे समोसों से लेकर मोमोज तक होता है। यहां तक कि केक, बिस्किट्स आदि में भी मैदे का इस्तेमाल होता है।

सावधान! मैदा खाने से होती हैं ये जानलेवा बीमारियां
X

मैदा का इस्तेमाल ज्यादातर फास्टफूड और चटपटे स्नैक्स जैसे समोसों से लेकर मोमोज तक होता है। यहां तक कि केक, बिस्किट्स आदि में भी मैदे का इस्तेमाल होता है।

इतना ही नहीं टेस्टी भटूरे, नान जैसी चीजें भी बिना मैदा के नहीं बनती। लेकिन क्या आपको पता है कि मैदा सेहत के लिए कितना हानिकारक है। नियमित तौर पर मैदा खाने से इम्यून सिस्टम कमजोर हो जाता है। जिससे बार-बार बीमार होने की संभावना बढ़ जाती है। जानिए मैदा खाने के और क्या-क्या साइड इफेक्ट्स हैं-

डायबिटीज

मैदा खाने से शुगर लेवल जल्दी बढ़ता है। ऐसा इसलिए क्‍योंकि इसमें बहुत ज्‍यादा हाई ग्लाइसेमिक इंडेक्‍स होता है। अगर व्यक्ति ज्यादा मैदे का सेवन करता है, तो वह घातक हो सकता है।

मोटापा

मैदे में काफी मात्रा में स्‍टार्च पाया जाता है। यही कारण है कि इसे खाने से मोटापा बढ़ता है। ज्‍यादा मैदा खाने से कोलेस्‍ट्रॉल और ब्‍लड में ट्राइग्‍लीसराइड स्‍तर बढ़ जाता है। इसलिए अगर आपको मोटापा कम करना है, तो यदि मैदे के सेवन से बचें।

पेट की समस्‍या

मैदा पेट के लिए काफी नुकसानदायक होता है। ऐसा इसलिए क्योंकि इसमें डाइट्री फाइबर नहीं होता और पाचन क्रिया पर असर पड़ता है। सही से पाचन न होने कारण इसका कुछ हिस्सा आंत में चिपक जाता है, जो कई बीमारियों का कारण बनता है।

कब्ज

मैजे के सेवन से अधिकतर कब्ज की समस्या हो जाती है। मैदे में ग्लूटन की ज्यादा मात्रा पाई जाती है। इससे खाना लचीला बनता है और इसी कारण से फूड एलर्जी का खतरा बढ़ जाता है।

हड्डियां कमजोर

मैदा एसिडिक होता है, जिसके कारण इसके ज्यादा सेवन से यह हड्डियों से कैल्‍शियम खींचने लगता है। इस कारण हड्डियां कमजोर हो जाती हैं। साथ ही मसल्‍स भी कमजोर होने लगते हैं और अर्थराइटिस की संभावना बढ़ जाती है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story