Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

सावधान : वक्त से पहले आप भी हो रहें है बुढ़ापे के शिकार

ऐसी चीजों ना करें जो जिससे आपकी त्वचा पर बुढ़ापा नड़र आता हो।

सावधान : वक्त से पहले आप भी हो रहें है बुढ़ापे के शिकार
नई दिल्ली. अपने साइज से बड़े साइज के कपड़े पहनते हैं तो इसका मतलब आप अपनी त्वचा छुपाना चाह रहे हैं और अपनी असली पहचान छुपा रहे हैं अपने साइज के फिट कपड़े पहनने से आप अपनी असल उम्र के ही लगेंगे। लड़कियां कई बार लूज टी-शर्ट पहनती हैं पर उससे वे ज्यादा उम्र की लगती हैं।

रोज-रोज बाल धोने की आदत है तो छोड़ दीजिए। लड़के छोटे बाल होने के कारण अकसर सिर से ही नहाते हैं। लेकिन ऐसा करने से सिर का नैचुरल तेल घटने लगता है और बाल कड़े और बेजान लगते हैं। यह भी आपको उम्र से ज्यादा दिखाता है। बहुत ज्यादा जंक फूड खाते हैं तो संभल जाइए। इससे वजन बढ़ता है जो आपको बूढ़ा दिखाता है और कई बीमारियों की भी वजह बनता है। उसी तरह प्रोसेस्ड फूड यानि पैकेट में बंद तैयार खाने की चीजों में बहुत ज्यादा शुगर होती है। ये आंखों के नीचे काले घेरे, त्वचा में खिंचाव और मुंहासे का कारण बनता है। जाहिर है इससे आपके उम्र से ज्यादा बूढ़े लगते हैं।

काम का कितना भी बोझ हो पर कोशिश करें कि तनाव को दूर ही रखें और अगर होता भी है तो मेडिटेशन के जरिए इसे दूर करें। तनाव लेने से दिमाग जल्दी थकता है और इसका असर आपके चेहरे पर दिखता है।

आप परेशान रहते हैं तो उम्र से ज्यादा बड़े लगते हैं। लोगों से मिलने जुलने के बजाए अकेले या घर में बंद रहना पंसद करते हैं तो ऐसा न करें क्योंकि इसका यह मतलब भी हो सकता है कि आप आज के समय के साथ नहीं चल रहे।

दिमाग भी सुस्त पड़ने लगता है और उसका असर आपकी सूरत पर दिखता है। शराब की लत सेहत के साथ-साथ त्वचा के लिए भी नुकसानदेह है। इससे आंतरिक खूबसूरती कम होती है। शराब की तरह ही सिगरेट भी सेहत के साथ-साथ चेहरे के लिए खराब है। सिगरेट पीने से एन्जाइम सक्रिय हो जाते हैं जो आपका त्वचा की चमक को कम करते हैं। चेहरे पर झुर्रियां भी कम दिखने लगती हैं। नींद न पूरी होने से आपका चेहरा और दिमाग थका-थका रहता है।

पूरी नींद न लेने से आप दिनभर आप सही से काम नहीं कर पाते और इससे वडन भी बढ़ता है। आज हुई लड़ाई को लेकर बरसों तक न बैठे रहें। किसी के लिए मन में लंबे समय तक नफरत और गुस्सा रखने से आप परेशान होते हैं और बूढ़े होने लगते हैं। शोध कहता है कि माफ कर देने से शारीरिक और मानसिक शांति मिलती है जिससे बल्ड प्रेशर, तनाव, उलझन भी कम होती है।

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

Next Story
Top