logo
Breaking

किराए के मकान में रहने वालें, इस बड़े रोग के हो सकते हैं शिकार

प्रॉपर्टी की बढ़ती कीमत के कारण युवा पीढ़ी के लिए घर खरीदना मुश्किल होता जा रहा है।

किराए के मकान में रहने वालें, इस बड़े रोग के हो सकते हैं शिकार

किराए के मकान में रहते हैं तो हो जाएं सावधान, डिप्रेशन का शिकार हो जाएंगे। किराए के मकान में रहने का बड़ा नुकसान सामने आया है। ताजा अध्ययन के मुताबिक, किराए के मकान में रहने वालों में अवसाद का खतरा ज्यादा रहता है।

घर खरीदना किसी के जीवन में विकास का अहम पड़ाव माना जाता है। यह व्यक्ति को लंबी अवधि में मानसिक सुरक्षा प्रदान करता है। हालांकि, प्रॉपर्टी की बढ़ती कीमत के कारण युवा पीढ़ी के लिए घर खरीदना मुश्किल होता जा रहा है।

इसे भी पढ़े:- भारत में बच्चों की मौत का सबसे बड़ा कारण निमोनिया, 3 साल बच्चों की हो चुकी है मौत

ब्रिटेन की मैनचेस्टर यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने इस संबंध में शोध को अंजाम दिया। इस शोध में करीब 7,500 लोगों को शामिल किया गया।

शोधकर्ताओं ने पाया कि किराए पर रहने और अपना मकान खरीदने से मानसिक स्वास्थ्य पर व्यापक प्रभाव पड़ता है। इसमें यह भी पाया गया कि व्यक्ति को कितने समय किराए पर रहना पड़ा।

और कितने साल से वह अपने घर में रह रहा है, इन बातों का भी असर पड़ता है। जितना ज्यादा वक्त किसी को किराए के घर में बिताना पड़े, उतना ही उसके मानसिक स्वास्थ्य पर दुष्प्रभाव पड़ता है।

Share it
Top