Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

पैर की मोच आने पर भूलकर भी न करें ये गलती, हो सकती है गंभीर परेशानी

कई बार चलते-चलते या खेलते खेलते अचानक से पैर मुड़ने भर से ही हमारे पैर में मोच आ जाती है,जिससे हमारे पैर में दर्द के साथ सूजन भी आ जाती है। दरअसल पैर में मोच पैर में किसी तनाव, खिंचाव या मांसपेशियों में चोट लगने से आती है।

पैर की मोच आने पर भूलकर भी न करें ये गलती, हो सकती है गंभीर परेशानी

कई बार चलते-चलते या खेलते खेलते अचानक से पैर मुड़ने भर से ही हमारे पैर में मोच आ जाती है,जिससे हमारे पैर में दर्द के साथ सूजन भी आ जाती है। दरअसल पैर में मोच पैर में किसी तनाव, खिंचाव या मांसपेशियों में चोट लगने से आती है।

पैर में मोच बाहरी और आंतरिक दोनों ही तरह से आ सकती है। आमतौर पर पैर में मोच एड़ी(टखने)या घुटने में आती है। इसके अलावा हाथ में भी मोच आना एक आम समस्या है।

इसलिए आज हम आपको हाथ और पैर में मोच आने के कारण,लक्षण और उपचार बता रहे हैं, जिससे आप समय रहते ही कुछ उपाय करके अपने दर्द में आराम पा सकते हैं।

यह भी पढ़ें : अगर आपके भी हाथ और पैर में हैं गांठ, तो अपनाएं ये घरेलू नुस्खे

पैर में मोच आने के कारण :

अधिकांश समय हमारे पैर के टखने पर मोच पैर के अचानक मुड़ने,गिरने,तेज दौड़ने या ऊंची जगह से कूदने की वजह से भी आ जाती है, जबकि घुटने में अक्सर मोच, घुटने में चोट लगने से, अचानक घुटनों के जोड़ों पर दबाव पड़ने से या गिरने की वजह से भी कई बार घुटने में मोच आ जाती है।

यह भी पढ़ें : सावधान ! वक्त रहते नहीं बदली अपनी ये आदतें, तो इस गंभीर बीमारी के हो सकते हैं शिकार

पैर में मोच आने के लक्षण :

1. पैर में मोच आने पर अक्सर मोच की जगह पर बेहद ही असहनीय दर्द होता है।

2. पैर मे मोच आने पर सूजन के साथ कई बार लालिमा भी आ जाती है।

3. पैर पर मोच आने पर पैर पर जोर डालने और चलने में परेशानी होना।

पैर में मोच आने के उपचार :

1. सबसे पहले मोच की जगह पर बर्फ या पेनकिलर की क्रीम लगाएं,जिससे पीड़ित व्यक्ति को दर्द से आराम मिल सके।

2. इसके बाद डॉक्टर से सलाह लें। इसके साथ ही 48 घंटो तक मोच वाली जगह पर किसी भी तरह का दबाव न डालें।

3. इसके बाद सूजन को कम करने के लिए बर्फ या आइस पैक को दिन में 4-8 बार जरूर लगाएं।

4. गर्म पट्टी का प्रयोग करें।

5. पैर पर अगर मोच आई तो हमेशा पैर को सोते वक्त थोड़ा ऊंचाई पर रखें। इससे मोच की वजह से आई पैर की सूजन में कमी आती है।

Next Story
Top