Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Underwater Train: अब भारतीय ट्रेन में आएगा लंदन-पेरिस वाला मजा, जल्द होगी देश की पहली अंडरवाटर मेट्रो की शुरुआत

आप सभी के लिए मेट्रो को अंडरग्राउंड (Underground Metro) चलते हुए देखना आम सी बात हो गयी होगी, लेकिन क्या आपने कभी यह सोचा है कि पानी में भी मेट्रो (Underwater Metro) चल सकती है?

Underwater Train: अब भारतीय ट्रेन में आएगा लंदन-पेरिस वाला मजा, जल्द होगी देश की पहली अंडरवाटर मेट्रो की शुरुआत
X

आप सभी के लिए मेट्रो को अंडरग्राउंड (Underground Metro) चलते हुए देखना आम सी बात हो गयी होगी, लेकिन क्या आपने कभी यह सोचा है कि पानी में भी मेट्रो (Underwater Metro) चल सकती है? जी हां, साल 2023 तक कोलकाता (Kolkata) में भारत की पहली अंडरवाटर ट्रेन (India's First Underwater Metro) टनल पूरी होने वाली है। कोलकाता ईस्ट-वेस्ट की यह मेट्रो लाइन हुगली नदी (Hooghly River) के नीचे से गुजरेगी। अंडरवाटर टनल लगभग पांच सौ मीटर तक फैली होगी और यूरोस्टार के लंदन-पेरिस कॉरिडोर का भारतीय रूप होगी। 2006-2007 में कोलकाता मेट्रो का ईस्ट-वेस्ट कॉरिडोर पर काम शुरू हुआ था।

अब पानी के नीचे भी चल सकेगी मेट्रो?

यह ट्रेन यात्रियों का बहुत समय बचाएगी, इस परियोजना का निर्माण कोलकाता मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (KMRC) द्वारा किया जा रहा है। मेट्रो लाइन हावड़ा को सेंट्रल कोलकाता के रास्ते साल्ट लेक से जोड़ेगी। बता दें कि यात्रियों के लिए प्रमुख आकर्षण यह जुड़वां सुरंगें हैं, जो 1.4 मीटर चौड़ी कंक्रीट के छल्ले से बनी हैं। यह सुरंगे तकरीबन आधा किलोमीटर पानी के नीचे से गुजरेगी, जिससे यात्रियों को एक अनूठा अनुभव मिलेगा।

जानिए आपात की स्थिति में कैसे होगा बचाव

पानी को सुरंगों में प्रवेश करने से रोकने के लिए, इसे हाइड्रोफिलिक गास्केट से लैस किया गया है। भूकंप जैसी आपात स्थिति के लिए सुरंगों में निकास भी होगा। आपात स्थिति में लोगों को निकालने के लिए सुरंगों में वॉकवे बनाए जाएंगे।तकनीकी समस्या की स्थिति में यात्रियों को बचने में मदद के लिए विशेष मार्ग बनाए गए हैं। सुरंग के कंक्रीट को फ्लाई ऐश और माइक्रो-सिलिका के साथ डिजाइन किया गया है ताकि इसे जलरोधी और पानी के अंदर इस्तेमाल के योग्य बनाया जा सके।

परियोजना पूरी होने के बाद बढ़ेंगे स्टेशन

परियोजना के पूरे होने के बाद चार और भूमिगत स्टेशन जोड़े जाएंगे, एस्प्लेनेड, महाकरण, हावड़ा और हावड़ा मैदान। मेट्रो महाकर्ण और हावड़ा स्टेशनों के बीच एक मिनट में हुगली नदी को पार कर जाएगी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक जापान इंटरनेशनल कोऑपरेशन एजेंसी (जिका) ने परियोजना की लागत का 48.5% निवेश किया है। हाल ही में, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी (Smriti Irani) ने हावड़ा मैदान से सियालदह मेट्रो स्टेशन का उद्घाटन किया था।

और पढ़ें
Next Story