Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ब्रेकफास्ट में बनाएं लजीज और हेल्दी थालीपीठ डिश- रेसिपी

थालीपीठ महाराष्ट्र की ट्रेडिशनल रेसिपी है।

ब्रेकफास्ट में बनाएं लजीज और हेल्दी थालीपीठ डिश- रेसिपी
X

थालीपीठ डिश का नाम सुनते ही आपके मुंह में पानी आ गया होगा, क्योंकि ये डिश है ही इतनी लजीज की देखते ही मन करता है यूं कान्ट इट जस्ट वन मुंह से निकलता है।

बारिश के मौसम में इस तरह की डिश आपके सामने कोई सर्व कर दे, तो मजा ही कुछ और हो जाता है।

आज आपके सामने महाराष्ट्र की ट्रेडिशनल रेसिपी थालीपीठ आपसे शेयर कर रही हैं चौबे कालोनी की निवासी मालविका राजिमवाले।

थालीपीठ जितनी स्वादिष्ट है, उतनी पौष्टिक।

इसे भी पढ़ें- बारिश के मौसम में फटाफट बनाएं बची रोटियों से लजीज चाट: रेसिपी

सामग्री-

  • 1 कप गेंहू का आटा
  • आधा कप बेसन
  • 1 कटोरी कद्दू किसा हुआ खीरा
  • 2 चम्मच तिल
  • 1 चम्मच अजवाइन
  • आधा चम्मच हल्दी
  • आधा चम्मच धनिया पाउडर
  • आधा चम्मच जीरा पाउडर
  • नमक स्वादानुसार

इसे भी पढ़ें- नाश्ते में मिनटों में बनाएं स्वादिष्ट सूजी के अप्पेः रेसिपी

विधि-

  1. थालीपीठ के लिए भाजनी बाजार में मिल जाता है, यह आटा भूनी हुई दालो और गेहूं को मिलाकर बनाया जाता है।
  2. भाजनी आटे को किसी बड़े बर्तन में डालिए, नमक, हल्दी पाउडर, लाल मिर्च पाउडर, हरा धनियां, हरी मिर्च, तिल, कद्दूकस किया, छोटी चम्मच तेल डाल कर अच्छी तरह सारी चीजें मिलने तक मिक्स कर लीजिए।
  3. हल्के गरम पानी की सहायता से थोड़ा थोड़ा पानी डालकर, नरम आटा गूंथ कर तैयार कर लीजिए। आटे को ढ़ककर 15 मिनट के लिए रख दीजिए, जिससे आटा फूल कर सेट हो जाएगा।
  4. 15 मिनट बाद आटा थालीपीठ बनाने के लिए तैयार है। आटे से थोड़ा सा आटा 1 मीडियम साइज के नींबू के बराबर तोड़ लीजिए, सूखे भाजनी आटे में लपेट कर गोल लोई बना लीजिए।
  5. हथेलियों की सहायता से 2 इंच के व्यास में बड़ा कर लीजिए और अब सूखे आटे में लपेट कर, हल्का दबाव देकर 3-4 इंच के व्यास में बड़ा कर लीजिए।
  6. थालीपीठ के बीच में उंगली से एक होल बना लीजिए, तवा गरम कीजिए, थोड़ा सा तेल डालकर तवे को चिकना कर लीजिए।
  7. थालीपीठ को सेकने के लिए गरम तवे पर डाल दीजिए। नीचे की सरफेस सिकने पर थालीपीठ को पलट दीजिए और उपर की ओर थोड़ा तेल डालकर चारों ओर लगा दीजिए।
  8. थोड़ा सा तेल बीच के होल में डाल दीजिए, इससे थाली पीठ नीचे से बहुत ही कुरकुरा और खस्ता सिकता है।
  9. थाली को पलट कर दूसरी ओर भी तेल डालकर लगा दीजिए, थालीपीठ को सावधानी से पलट पलट कर दोनों ओर से ब्राउन चित्ती आने और कुरकुरे होने तक सेक लीजिए।
  10. तवे पर एक बार में 2-3 थालीपीठ डालकर एक साथ सेके जा सकते हैं।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story