Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

मोबाइल फोन रिकॉर्ड्स से कर सकते हैं डेंगू का पूर्वानुमान, दिल्ली में टूटा डेंगू का रिकॉर्ड

अनुसंधानकर्ताओं ने 2013 में पाकिस्तान में बड़े पैमाने पर डेंगू फैलने के आंकड़े का विश्लेषण किया।

मोबाइल फोन रिकॉर्ड्स से कर सकते हैं डेंगू का पूर्वानुमान, दिल्ली में टूटा डेंगू का रिकॉर्ड
बोस्टन. दुनिया भर में तेजी से फैलने वाली मच्छर जनित बीमारी डेंगू के प्रसार और समय के बारे में अब मोबाइल फोन रिकॉर्ड्स का इस्तेमाल किया जा सकता है। अनुसंधानकर्ताओं ने बताया कि दुनिया भर में अधिक से अधिक लोगों के इस जानलेवा बीमारी की चपेट में आने की आशंका बढ़ गई क्योंकि जलवायु परिवर्तन के कारण डेंगू फैलाने वाले इस मच्छर में तेजी से प्रसार हो रहा है। डेंगू से संक्रमित लोगों के दूसरे देशों में यात्रा करने के कारण भी इस बीमारी का प्रसार हो रहा है।
हार्वर्ड टीएच चान स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ के नेतृत्व में अनुसंधानकर्ताओं ने मोबाइल फोन रिकॉर्ड के एक बड़े डाटा सेट का इस्तेमाल कर एक नया मॉडल विकसित किया, जिससे कि बीमारी की आशंकाओं का पता लगाया जा सकता है। नीति निर्माताओं को इस संबंध में पहले ही महत्वपूर्ण चेतावनी मुहैया कराई जा सकती है। अनुसंधानकर्ताओं ने 2013 में पाकिस्तान में बड़े पैमाने पर डेंगू फैलने के आंकड़े का विश्लेषण किया।
जलवायु सूचना पर आधारित उनके द्वारा विकसित ट्रांसमिशन मॉडल तथा फोन कॉल रिकॉर्ड से बटोरी गई आवाजाही के आंकड़े से इसकी तुलना की गई। परिणाम से यह पता चला है कि देश में कॉल रिकॉर्ड के जरिए दिखाए गए आवाजाही के पैटर्न का इस्तेमाल इसके भौगोलिक प्रसार के पूर्वानुमान और हाल में किसी जगह पर इसके फैलने और संकट के तौर पर उभरने के समय का पता लगाने में किया जा सकता है।
नीचे की स्लाइड्स में पढें, खबर से जुड़ी अन्य जानकारी -

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

Next Story
Top