logo
Breaking

सावधान! किचन में यूज होने वाले कपड़े से जा सकती है जान, जानें वजह

ज्यादातर घरों में किचन में तमाम कामों के लिए कपड़े का इस्तेमाल किया जाता है। कोई बर्तन पोछना हो या किसी अन्य काम के लिए ज्यादातर लोग टी टावल यानी किचन में यूज होने वाले कपड़े को इस्तेमाल के लिए प्रयोग लाए जाते हैं। किचन में कपड़े का इस्तेमाल करने से फैमिली मेंबर्स को फूड प्वॉइजनिंग होने का खतरा रहता है।

सावधान! किचन में यूज होने वाले कपड़े से जा सकती है जान, जानें वजह

ज्यादातर घरों में किचन में तमाम कामों के लिए कपड़े का इस्तेमाल किया जाता है। कोई बर्तन पोछना हो या किसी अन्य काम के लिए ज्यादातर लोग टी टावल यानी किचन में यूज होने वाले कपड़े को इस्तेमाल के लिए प्रयोग लाए जाते हैं। किचन में कपड़े का इस्तेमाल करने से फैमिली मेंबर्स को फूड प्वॉइजनिंग होने का खतरा रहता है।

हाल ही में हुई एक रिसर्च में इस बात की पुष्टि हुई है। किचन में बार-बार एक ही कपड़े का यूज करने से फूड प्वॉइजनिंग का खतरा हो सकता है।

यूनिवर्सिटी ऑफ मॉरिशस की तरफ से एक रिसर्च की गई। इस रिसर्च के दौरान शोधकर्ताओं ने एक महीने तक किचन में इस्तेमाल होने वाले कपड़े पर रिसर्च किया।

इस दौरान उन्होंने 100 तौलिए लिए और उन पर पनपने वाले बैक्टीरिया की जांच की। रिसर्च में शोधकर्ताओं ने 100 तौलिए में से लगभग आधी (49) तौलिया पर खतरनाक बैक्टीरिया पाया।

वैज्ञानिकों ने बताया कि इस बैक्टीरिया का नाम कॉलिफॉर्म्स है, जो खतरनाक बैक्टीरिया ई-कोलाइ बैक्टीरिया के परिवार का है।

शोधकर्ताओं के मुताबिक इन बैक्टीरिया के पनपने के चांसेस तब ज्यादा बढ़ जाते हैं जब किचन का कपड़ा गीला हो या फिर जिन घरों में नॉन-वेज ज्यादा बनता हो।

रिसर्च के अन्य नतीजे

ज्यादा परिवार की संख्या वाले घरों में बैक्टीरिया ज्यादा पनपने के चांसेस होते हैं।

साफ-सफाई और परिवार के सदस्यों का रहन-सहन बैक्टीरिया के ग्रोथ पर असर डालता है।

परिवार के लोगों की डाइट, यूज करने का तरीका, गीले कपड़े में फूड प्वॉइजनिंग के बैक्टीरिया पनपने के ज्यादा चांसेस होते हैं।

ये है वजह

इसकी असल वजह यही है कि किचन के कपड़ों की सही से सफाई न होना। अगर साफ-सफाई का विशेषतौर पर ध्यान रखा जाए तो इस तरह के बैक्टीरिया नहीं पनपेंगे।

Share it
Top