Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

ये है कब्ज का रामबाण इलाज, अपनी डाईट में शामिल करें ये 5 चीज- जल्द मिलेगी राहत

आज के बदलते लाइफस्टाइल और खान-पान की आदतों में आए बदलाव की वजह से अक्सर लोग कब्ज की समस्या से परेशान रहते हैं। अगर इस समस्या का समय पर इलाज नहीं किया जाए, तो लोगों को पेट का भारीपन, एसीडिटी और गैस आदि बीमारियां घेरने लगती हैं। अगर आप इन सबसे बीमारियों से छुटकारा पाना चाहते हैं। तो अपने लाइफस्टाइल को रेगुलर करने के साथ ही अपनी खाने-पीने की आदतों में बदलाव करना बेहद जरूरी है।

ये है कब्ज का रामबाण इलाज, अपनी डाईट में शामिल करें ये 5 चीज- जल्द मिलेगी राहत

आज के बदलते लाइफस्टाइल और खान-पान की आदतों में आए बदलाव की वजह से अक्सर लोग कब्ज की समस्या से परेशान रहते हैं। अगर इस समस्या का समय पर इलाज नहीं किया जाए, तो लोगों को पेट का भारीपन, एसीडिटी और गैस आदि बीमारियां घेरने लगती हैं।

अगर आप इन सबसे बीमारियों से छुटकारा पाना चाहते हैं। तो अपने लाइफस्टाइल को रेगुलर करने के साथ ही अपनी खाने-पीने की आदतों में बदलाव करना बेहद जरूरी है।

इसलिए आज हम आपको कुछ ऐसे खास खाद्य पदार्थ बता रहे हैं जिनका रोजाना सेवन करने पर आप कुछ ही दिनों में अपनी कब्ज की समस्या को आसानी से खत्म कर पाएगें।

यह भी पढ़ें : जानें क्या है 'म्यूजिक थैरेपी' और ये हैं इसके 5 अनसुने फायदे

कब्ज के लिए घरेलू उपाय :

1. सेब

सेब में पाए जाने वाला फाइबर एक घुलनशील तत्व होता है जो हमारी आंतों में फायदेमंद बैक्टीरिया की संख्या को बढ़ाता है और कब्ज की परेशानी को कम करने में मददगार साबित होता है।

2. नाशपाति

नाशपाति में फाइबर के अलावा फ्रक्टोज़ और सॉर्बिटल नामक जरूरी पोषक तत्व पाए जाते हैं। फक्रूटोज शरीर में पाई जाने वाली एक प्रकार की शुगर है जो शरीर में मौजूद हानिकारक तत्वों को अवशोषित कर लेता है साथ ही आंत से पानी को सोख कर पाचन क्रिया के सुचारू रूप से चलने में मदद करता है।

जबकि सॉर्बिटल एक शुगर अल्कोहल है, जो शरीर में पूरी तरह से अवशोषित नहीं होती है और आंतों में पानी लाने का काम करती है, ताकि पाचन क्रिया को आसानी से कार्य कर सके।

3. कीवी फ्रूट

सेब और नाशपाति की ही तरह कीवी फ्रूट भी फाईबर के गुणों से भरपूर एक हेल्दी फल होता है। शोध के मुताबिक कीवी फ्रूट का रोजाना सेवन करने से हमारे शरीर की पाचन क्रिया मजबूत होती है, इसके साथ ही आंते अपना काम आसानी से करने में सक्षम हो पाती है।

यह भी पढ़ें : बदलते मौसम में रहें सावधान, गले में हो सकती है सूजन और इंफेक्शन- अपनाएं ये घरेलू नुस्खे

4. पालक और हरी सब्जियों का सेवन

पालक,ब्रोकोली और हरी सब्जियों में सिर्फ फाइबर ही नहीं बल्कि विटामिन सी, विटामिन के और फोलेट जैसे पोषक तत्वों से भरपूर होती है, इसलिए अगर इन चीजों का सूप, सलाद और सब्जी बनाकर सेवन किया जाए तो कुछ ही दिनों में आसानी से कब्ज की बीमारी से छुटकारा पाया जा सकता है।

5. शकरकंद

मीठा आलू या शकरकंद भी फाइबर के गुणों से भरपूर होती है। मीठे आलू में सेलूलोज़ और लिग्निन नाम के दो अधिकतर अघुलनशील फाइबर होता है। उनमें घुलनशील फाइबर पेक्टिन भी पाया जाता है।

एक शोध में कब्ज के पेशेंट को रोजाना 200 ग्राम शकरकंद या मीठा आलू खाने को दिया गया है जिससे उन्हें कुछ ही दिनों में जहां कब्ज से तो आराम मिलत ही है साथ ही तनाव में भी कमी देखी गई है।

आप मीठे आलू को भुना हुआ, उबला हुआ या मैश कर के भी खा सकते हैं। यही नहीं, एक अध्ययन ने कीमोथेरेपी (50) से गुज़र रहे लोगों पर मीठे आलू खाने के प्रभावों को देखा।

Next Story
Top