Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

क्या आप जानते हैं चॉकलेट जैसा स्वाद देने वाले गुड़ के बारे में, न्यूट्रीनिस्ट से जानें इसके Health Benefits

वैसे तो गुड़ कई तरह का होता है, इसे राज्यों के हिसाब से अलग-अलग तरीकों से बनाया जाता है, पर क्या आपने कभी सुना है चॉकलेट (Chocolate) जैसा स्वाद देने वाले गुड़ के बारे में, शायद नहीं सुना होगा। आइए बताते हैं कि यह गुड कहां बनाया जाता है और आपके स्वास्थ्य के लिए कितना फायदेमंद है।

क्या आप जानते हैं चॉकलेट जैसा स्वाद देने वाले गुड़ के बारे में, न्यूट्रीनिस्ट से जानें इसके Health Benefits (फोटो: इंस्टाग्राम)
X

क्या आप जानते हैं चॉकलेट जैसा स्वाद देने वाले गुड़ के बारे में, न्यूट्रीनिस्ट से जानें इसके Health Benefits (फोटो: इंस्टाग्राम)

जगरी (Jaggery) और गुड़ (Gur) चीनी (Sugar) का एक अच्छा विकल्प तो है ही साथ ही यह स्वास्थ्य (Health Benefits) के लिए काफी लाभदायक होता है। वैसे तो गुड़ कई तरह का होता है, इसे राज्यों के हिसाब से अलग-अलग तरीकों से बनाया जाता है, पर क्या आपने कभी सुना है चॉकलेट (Chocolate) जैसा स्वाद देने वाले गुड़ के बारे में, शायद नहीं सुना होगा। आइए बताते हैं कि यह गुड कहां बनाया जाता है और आपके स्वास्थ्य के लिए कितना फायदेमंद है।

दरअसल, न्यूट्रीनिस्ट मुनमुन गनेरीवाल ने इस गुड़ के बारे में बताया है और इसकी फोटो अपने इंटाग्राम अकाउंट पर शेयर की है। उन्होंने गुड की तस्वीर शेयर करते हुए लिखा - ''गुड़ जिसका स्वाद चॉकलेट जैसा होता है और बेहद सेहतमंद होता है। पाम गुड ....नाम के इस रत्न के बारे में बहुत से लोग नहीं जानते होंगे, जो मूल रूप से पलमायरा पाम के शक्कर के रस से बनाया जाता है। इसमें एक यूनिक चॉकलेट जैसा स्वाद होता है और इसमें बड़ी संख्या में विटामिन और खनिज होते हैं। मैंने Madurai में अपने योगा टीचर्स ट्रेनिंग कोर्स के दौरान इसकी खोज की है।''

न्यूट्रीनिस्ट ने आगे लिखा - ''रिफाइंड चीनी की तुलना में, ताड़ के गुड़ में खनिज निर्माण प्रक्रिया पूरी होने के बाद भी बरकरार रहते हैं। इसमें आयरन, मैग्नीशियम, फास्फोरस औपोटेशियम जैसे कई खनिज भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। इसे तमिल में 'करूपट्टी' के नाम से जाना जाता है और इसे कई तरह की मिठाइयों में इस्तेमाल किया जाता है।''

फोटो क्रेडिट : इंस्टाग्राम

न्यूट्रीनिस्ट मुनमुन गनेरीवाल ने लिखा - ''खजूर के रस से बने इसी तरह के गुड़ को बंगाल में भी बहुत पसंद किया जाता है, जहां इसे 'नोलेन गुर' कहा जाता है और फेमस 'सोंदेश' में भी इसका इस्तेमाल किया जाता है। आयरन की उपस्थिति के साथ एनर्जी का एक बड़ा स्रोत, ताड़ का गुड़ एनीमिया के लिए एक एंटीडोट का काम करता है। इसका ग्लाइसेमिक इंडेक्स भी काफी कम होता है।'

Next Story