Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

घर को बनाएं ब्यूटीफुल और स्टाइलिश, इन तरीकों से सजाएं अपने ''सपनों का महल''

बढ़ता प्रदूषण आज एक बड़ी समस्या बनता जा रहा है। इससे बाहर ही नहीं घर के भीतर की हवा भी प्रभावित हो रही है। ऐसे में जरूरी है कि अपने घर को हरा-भरा बनाए रखा जाए।

घर को बनाएं ब्यूटीफुल और स्टाइलिश, इन तरीकों से सजाएं अपने सपनों का महल
X

बढ़ता प्रदूषण आज एक बड़ी समस्या बनता जा रहा है। इससे बाहर ही नहीं घर के भीतर की हवा भी प्रभावित हो रही है। ऐसे में जरूरी है कि अपने घर को हरा-भरा बनाए रखा जाए। कैसे बनाया जाए घर को ग्रीन होम, जानिए।

हरा रंग हमें प्रकृति के करीब होने का अहसास कराता है। हरा रंग खुशहाली का भी प्रतीक है। यह हमारी आंखों को ताजगी और ठंडक देता है। चूंकि आज हमारा पर्यावरण इतना ज्यादा प्रदूषित हो चुका है कि हमारे चारों तरफ लगातार हरा रंग गायब होता जा रहा है। ऐसे में अपने घर के इंटीरियर में थोड़ा फेरबदल करके इसे ग्रीन होम बनाया जा सकता है। इससे परिवार को साफ-सुथरा पर्यावरण भी मिलेगा।

गार्डेनिंग है कारगर

  • अगर आपका घर ग्राउंड फ्लोर पर है, तो अपने घर के इर्द-गिर्द हरे पौधे लगाने चाहिए।
  • घर अगर बड़ा है, तो इससे आस-पास रंग-बिरंगे फूल वाले पौधे लगाकर पूरे वातावरण को खुशबू से भर सकती हैं।
  • घर के बगीचे में खिलने वाले रंग-बिरंगे फूल सुबह के समय शांति का अहसास कराते हैं।
  • घर के आगे अगर खाली जगह है, तो उसमें एक किचन गार्डन तैयार किया जा सकता है।
  • इसमें ज्यादा सब्जियां न भी लगाएं, तो अदरक, लहसुन, हरा धनिया, पुदीना, मिर्च, टमाटर, करीपत्ता, तुलसी लगाई जा सकती है।
  • इससे घर का पर्यावरण स्वच्छ होता है, साथ ही किचेन में यूज की जाने वालीं जरूरत की चीजें भी मिलती हैं।
  • घर की बाउंड्री के आस-पास अगर जगह है, तो घिया, तोरी, लोबिया, करेले और सीताफल की बेल लगाई जा सकती है।
  • यदि घर में मिट्टी वाली जमीन न भी हो तो छोटे, बडेÞ गमलों में इन सब्जियों को बड़ी आसानी से लगाया जा सकता है।
  • घर में बड़े और हरे पौधों को बालकनी और घर के कोनों में रखकर घर को और ज्यादा हरा-भरा बनाया जा सकता है।
  • घर में अगर सीलन है, तो मनीप्लांट जरूर रखें।

इंटीरियर में करें बदलाव

  • घर के इंटीरियर में बदलाव करके उसे हरा-भरा दिखाने के लिए दीवारों में हरे रंग का पेंट करवा सकती हैं।
  • घर के जिस हिस्से में गार्डेन है, उसकी बाउंड्री वॉल पर बांस की छत बनवाकर उसे हरे रंग से रंगा जा सकता है।
  • घर के पर्दों का रंग भी हरा चुनें। इसके अलावा बेडरूम में बड़े-बड़े फ्लोरल डिजाइन की बेड शीट्स से घर को नेचुरल टच दिया जा सकता है।
  • फ्लोरल कुशंस कवर भी मन को ताजगी और ठंडक देते हैं।
  • घर की दीवारों को सजाने के लिए बड़ी और प्राकृतिक मोहक नजारों वाली पेंटिंग्स लगाई जा सकती हैं।
  • बड़े जानवरों की पेंटिंग्स से भी घर में जंगल की खूबसूरती को लाया जा सकता है।
  • आप चाहें तो ड्रॉइंग रूम में एक्वेरियम भी रख सकती हैं। घर के कोनों को सजाने के लिए वॉटर बॉडीज का इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • बाजार में आजकल कई किस्म के आकार और प्रकार में यह मिलती है। इन्हें ड्रॉइंग रूम के कॉर्नर में रखा जा सकता है।
  • पानी की कल-कल करती ध्वनि पूरे वातावरण को प्राकृतिक बनाती है।
  • इस तरह अपने घर को ईको-फ्रेंडली बनाकर खुद को ज्यादा से ज्यादा प्रकृति के नजदीक रखते हुए जीवन में हरियाली के रंगों को भरा जा सकता है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story