Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

हूला हूप एक्सरसाइज से घटाएं 10 दिन में अपना बेली फैट

इसे करते समय कुछ बातों का ख्याल रखना जरूरी है।

हूला हूप एक्सरसाइज से घटाएं 10 दिन में अपना बेली फैट

कई महिलाएं बैली फैट की समस्या से परेशान रहती हैं। इन दिनों मिड एज महिलाओं में मोटापा एक बड़ी समस्या बनती जा रही है।

इससे छुटकारा पाने के लिए हूला हूप एक्सरसाइज एक बेहतरीन विकल्प है। लेकिन इसे करते समय कुछ बातों का ख्याल रखना जरूरी है।

जानिए, हूला हूप से जुड़ी कुछ जरूरी बातें।

कैसे करें हूला हूप

हूला-हूप एक तरह से फन एक्टिविटी है। लेकिन इसे करने के लिए निरंतर अभ्यास की जरूरत होती है।< इसे करते हुए कमर को धीरे-धीरे दाएं से बाएं घुमाते हुए थोड़ा आगे और पीछे करके वर्कआउट करना होता है।

मतलब यह कि आपको हूला हूप में अपनी कमर को गोल-गोल घुमाना होता है।

हूला हूप का पूरा फायदा लेने के लिए निरंतर अभ्यास की जरूरत होती है। इसे अगर गलत तरीके से किया जाए, तो आपको कई तरह की शारीरिक परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

इसे पहले छोटे रोटेशन से शुरू करना चाहिए और फिर धीरे-धीरे स्टेमिना बढ़ने के साथ-साथ रोटेशन बढ़ाना चाहिए।

दरअसल, रोटेशन से कमर पर पड़ा प्रेशर ही इंपॉर्टेंट होता है। साथ ही यह भी ध्यान रखें कि हूला हूप लंच या हैवी ब्रेकफास्ट के तुरंत बाद ना करें।

हां, इसे करने के आधे से एक घंटे पहले कुछ हल्का खा लेना बेहतर रहता। इसे करने वालों को ज्यादा वसा और कैलोरी वाले खाने से बचना चाहिए।

जिन महिलाओं को स्लिप डिस्क, हार्निया या शरीर के निचले हिस्से में कोई समस्या हो, उन्हें यह नहीं करना चाहिए।

फायदे हैं कई

नियमित हूला हूप करने से आपकी बॉडी शेप में रहती है और इससे अट्रैक्टिव लुक मिलता है।

इसमें कंधे से लेकर पैरों तक की मसल्स को काफी फायदा पहुंचता है, कमर शेप में रहती है। साथ ही पीठ का निचला हिस्सा मजबूत होता है।

इससे आपके पेट, कमर, पैर, हिप्स और जांघों की मांसपेशियां मजबूत होती हैं।

हूला हूप को करने से एकाग्रता में वृद्धि होती है और मन शांत रहता है।

इससे ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है और आप स्वस्थ रहती हैं।

इससे आपकी रीढ़ की हड्डी में लचीलापन आता है, पीठ पर जमा फैट कम होता है।

इससे बैली फैट भी आसानी से कम किया जा सकता है।

Next Story
Top