Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पार्टनर के साथ खुशी के पल बिताने के लिए रखें इन बातों का ध्यान

लगातार बिजी रहने के बावजूद भी अकसर घर, ऑफिस के काम अधूरे रह जाते हैं। लेकिन अगर दिन की शुरुआत पूरी प्लानिंग से की जाए तो यह प्रॉब्लम फेस नहीं करनी पड़ेगी। साथ ही वर्क क्वालिटी, प्रोडक्टिविटी भी बढ़ती है।

पार्टनर के साथ खुशी के पल बिताने के लिए रखें इन बातों का ध्यान
X

लगातार बिजी रहने के बावजूद भी अकसर घर, ऑफिस के काम अधूरे रह जाते हैं। लेकिन अगर दिन की शुरुआत पूरी प्लानिंग से की जाए तो यह प्रॉब्लम फेस नहीं करनी पड़ेगी। साथ ही वर्क क्वालिटी, प्रोडक्टिविटी भी बढ़ती है। अपने दिन की शुरुआत ऑर्गेनाइज तरीके से कैसे करें, इस बारे में लाइफ स्किल ट्रेनर शिप्रा त्रिवेदी पूरी जानकारी दे रही हैं।

हाउसवाइफ हो या वर्किंग, महिलाओं के पास काम की एक लंबी सूची होती है। खाना बनाने से लेकर बच्चों और घर के दूसरे सदस्यों की भी जिम्मेदारियों को, जरूरतों को पूरा करना होता है।

ऑफिस में भी अपनी परफॉर्मेंस को बेहतर बनाए रखना होता है यानी, एक साथ बहुत से कामों पर फोकस करना पड़ता है।

ऐसे में अगर महिलाएं अपने पूरे दिन को पहले से ऑर्गेनाइज न करें तो मनचाहा आउटपुट सामने नहीं आता है।

अगर आप भी नहीं समझ पा रही हैं कि पूरे दिन को कैसे ऑर्गेनाइज किया जाए, तो परेशान न हों। इसके लिए कुछ जरूरी बातों पर ध्यान दें।

इन बातों को करें फॉलो

  • ऑर्गेनाइज्ड तरीके से दिन की शुरुआत करने के लिए सबसे जरूरी है सुबह सही समय पर उठना। हालांकि कई महिलाएं अलार्म लगाकर सोती हैं ताकि सही समय पर उठ सकें।
  • लेकिन देखने में आता है कि वे अलार्म बजने पर उसे बंद करके फिर से सो जाती हैं। इस तरह की लापरवाही न करें।
  • सुबह के समय आप तरोताजा होती हैं, पॉजिटिविटी से भरी होती हैं। यही समय पूरे दिन का शेड्यूल बनाने के लिए परफेक्ट होता है।
  • इस समय प्रायोरिटी के हिसाब से काम की सूची तैयार करें। कौन सा काम ज्यादा इंपॉर्टेंट है, इस हिसाब से मोबाइल में रिमाइंडर भी लगा सकती हैं।
  • अपने बनाए हुए शेड्यूल पर स्टिक रहें। कई बार ऐसा होता है कि आप ‘टू-डू’ लिस्ट यानी क्या-क्या करना है, इसकी सूची तो बना लेती हैं, लेकिन करती वही हैं, जो सामने आता जाता है।
  • इसके बाद दिन के आखिर में प्रोडक्टिविटी कम होने पर या जरूरी काम पूरे न होने पर वह निराश हो जाती हैं। ऐसा कतई न करें। टू-डू लिस्ट पर फोकस रहें।
  • अगर आपको अपनी सूची में फेरबदल करना पड़े, तो उन्हीं कामों को इग्नोर करें, जो ज्यादा जरूरी न हों।
  • शाम के समय उन्हीं कामों को करें, जिन्हें करने में आपको ज्यादा एनर्जी की जरूरत नहीं होती।
  • दरअसल, शाम तक एनर्जी लेवल काफी कम हो जाती है और काम करने के उत्साह में भी कमी आ जाती है।
  • ऐसे में इस समय वही कमा करना चाहिए, जिनमें कम समय लगता हो।
  • अगर आप अकसर घर के काम-काज की वजह से अपने जरूरी कामों को समय पर पूरा नहीं कर पा रही हैं, तो बेहतर है कि घर के काम में पति और बच्चों से मदद लें।
  • उनसे कहें कि घर का काम करना सिर्फ आपकी नहीं, उनकी भी जिम्मेदारी है।
  • इससे आपका समय बचेगा और परिवार के सदस्यों में भी जिम्मेदारी का अहसास आएगा।
  • अगला दिन ऑर्गेनाइज तरीके से शुरू हो, इसके लिए रात को सोने से पहले भी तैयारी की जरूरत होती है।
  • इस तरह सुबह आपके काम जल्दी पूरे हो जाएंगे।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

और पढ़ें
Next Story