Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

खाने के साथ खाएं मिक्स अचारः रेसिपी

खाने के साथ अगर अचार मिल जाए तो स्वाद दोगुना हो जाता है।

खाने के साथ खाएं मिक्स अचारः रेसिपी
X

खाने के साथ अगर अचार मिल जाए तो स्वाद दोगुना हो जाता है। आमतौर पर आम का अचार हर किसी के घर में मिल जाता है।

लेकिन गाजर, मटर, बीन्स, फूल गोभी और शलजम आदि का मिक्स अचार आपने शायद ही खाया होगा।

आइए जानते हैं इसकी रेसिपी के बारे में...

इसे भी पढ़ें- 5 मिनट में बनाएं चटपटी ब्रेड चाटः रेसिपी

सामग्री-

  • 500 ग्राम गोभी
  • 500 ग्राम गाजर
  • 200 ग्राम हरे मटर के दाने या शलजम
  • हींग
  • 100 ग्राम सरसों का तेल – ( आधा कप )
  • 2 टेबल स्पून पीली सरसों – (पिसी हुई)
  • 1 छोटी चम्मच हल्दी पाउडर
  • एक टेबल स्पून सिरका
  • नमक स्वादानुसार

इसे भी पढ़ें- घर पर बनाएं खट्टी-मिठी अमरूद की चटनीः रेसिपी

विधि-

  1. गोभी को बड़े बड़े टुकड़ों में काट लीजिए ( पानी गरम कीजिये और 1 छोटी चम्मच नमक मिला 10-15 मिनट के लिए रख दीजिए, अब गोभी को इस पानी से निकालिए और साफ पानी से धोइए।
  2. गाजर धोइए, छीलिये और फिर से धोइये अब इन गाजर के 2 इंच लम्बे पतले टुकड़े काट लीजिए। मटर छीलिए, दाने धो लीजिए।
  3. किसी बर्तन में इतना पानी गरम करने रख दीजिए कि सब्जियां पूरी तरह डूब सकें, पानी में उबाल आने पर, सारी कटी हुई सब्जियां उबलते पानी में डालिए, 3 -4 मिनट उबालिए और ढककर 5 मिनिट के लिये रख दीजिए।
  4. सब्जियों का पानी किसी चलनी में छान कर निकालिए और सब्जी को किसी धुले मोटे कपड़े के ऊपर, डाल कर धूप में 4-5 घंटे सुखाइए।
  5. जब सब्जियों में पानी बिलकुल न रहें तब इन्हैं एक बड़े बर्तन में डालिए, तेल को कढ़ाई में डालकर गरम कीजिए, तेल गरम होने के बाद गैस प्लेम बन्द कर दीजिए।
  6. तेल को हल्का गरम रहने पर, पीली सरसों, हल्दी पाउडर, नमक, लाल मिर्च, हींग पीस कर डालिए और सब्जियों में डालकर अच्छी तरह मिला दीजिए, सिरका या नीबू का रस भी मिला दीजिए।
  7. अचार को सूखे हुये कांच या प्लास्टिक कन्टेनर में भर कर रख दीजिए, 2 दिन में 1 बार चमचे से अचार को ऊपर नीचे कर दीजिए। 3-4 दिन में यह अचार खट्टा और स्वादिष्ट हो जाता है।
  8. गोभी, गाजर, मटर का अचार तैयार है। इसे कांच के जार में रखकर रोज खाएं।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story