logo
Breaking

इन आसान तरीकों से पाएं आत्मविश्वास से भरा लाइफ स्टाईल,बदलें जिंदगी की दिशा

खुद पर यकीन हो तो हर मुकाम हासिल किया जा सकता है, लेकिन कुछ लोगों में बचपन से ही आत्मविश्वास का अभाव होता है। वे हमेशा खुद को कमतर समझते हैं। लेकिन चाहें तो अपने आत्मविश्वास को कभी भी बढ़ाया जा सकता है।

इन आसान तरीकों से पाएं आत्मविश्वास से भरा लाइफ स्टाईल,बदलें जिंदगी की दिशा

खुद पर यकीन हो तो हर मुकाम हासिल किया जा सकता है, लेकिन कुछ लोगों में बचपन से ही आत्मविश्वास का अभाव होता है। वे हमेशा खुद को कमतर समझते हैं। लेकिन चाहें तो अपने आत्मविश्वास को कभी भी बढ़ाया जा सकता है।

आत्मविश्वास की कमी हो तो हम अपने आपको दूसरों से कमतर समझने लगते हैं, जिसकी वजह से हम दूसरों की गलत बातों का भी विरोध नहीं करते। जब हम खुद को दूसरों से कमतर समझते हैं तो दूसरे भी हमें ऐसा ही मान लेते हैं। भले हकीकत में ऐसा न हो, इसलिए अपने आत्मविश्वास को कम नहीं होने देना चाहिए। इसे बढ़ाना नामुमकिन नहीं है। इसके लिए कुछ बातों पर गौर करने की जरूरत है।

यह भी पढ़ें : बदलते मौसम में इन खास घरेलू टिप्स से रखें अपने पेट का ख्याल

कॉन्फिडेंट एटीट्यूड पाने के आसान टिप्स :

खुद से प्यार करें

वास्तव में आत्मविश्वास के अभाव की जड़ें हमारे अतीत से जुड़ी होती हैं। कहने का मतलब है कि बचपन में जब हमें कोई आत्मविश्वासी नहीं मानता है या कमतर समझता है तो आगे चलकर अपने बारे में हमारी यही धारणा बन जाती है।आत्मविश्वासी बनने के लिए इसी नजरिए को बदलने की जरूरत है।

आत्मविश्वासी बनने के लिए सबसे पहले अपने आप से प्यार करें। यह बात उन लोगों पर खासतौर पर लागू होती है, जिन्हें बचपन से माता-पिता का कम प्यार और सुरक्षा मिली हो। खुद से प्यार करना, खुद की परवाह करना और खुद की देखभाल करना ही आत्मविश्वास बढ़ाने का सबसे बेहतरीन तरीका है।

अपने बारे में नकारात्मक बातें, जिन्हें आप बचपन से मानती चली आ रही हैं, उनसे पूरी तरह निजात पाने की कोशिश करें। सके लिए आपके बारे में जो गलत बातें किसी के द्वारा कही गई हैं, उसे सिरे से नकार कर, अपनी पॉजिटिव इमेज बनाएं।

यह भी पढ़ें : इन तरीकों के सुपर फूड्स से आंखों को बनाएं हेल्दी

बेहतरी की तरफ कदम बढ़ाएं

आत्मविश्वास कम करने में नेगेटिव बातों का अहम रोल होता है, यह आपने जान लिया है। लेकिन नेगेटिव बातें आपके जीवन में आती कैसे हैं, यह भी जानना जरूरी है। असल में नेगेटिव बातों के स्रोत आस-पास मौजूद होते हैं। ये लोग परिवार के सदस्य या दोस्त भी हो सकते हैं।

मान लीजिए, आप अपने स्कूल में होने वाली वाद-विवाद प्रतियोगिता में हिस्सा लेने से इसलिए डरती थीं क्योंकि आपके दोस्त ने कहा कि तुमसे नहीं होगा। फिर धीरे-धीरे आपको भी उसकी बात पर यकीन होने लगा। इस वजह से आगे चलकर आप लोगों के सामने खुद को एक्सप्रेस करने से कतराने लगती हैं।

इससे आपकी प्रगति रुक जाती है। ऐसे में खुद से सवाल करें कि क्या वाकई आपमें आत्मविश्वास की कमी है? इसका जवाब अगर आप ना में देती हैं तो समझ जाएं कि आप आत्मविश्वासी और समझदार इंसान हैं। इस तरह आप जीवन में बेहतर बनने की तरफ कदम बढ़ाएंगी।

आजमाएं यह तरीका

अपने आत्मविश्वास को मजबूत बनाने के लिए कुछ बातों को बार-बार दोहराएं।

1. मैं खास हूं, मेरे जैसा दुनिया में दूसरा कोई नहीं है।

2. हां, मुझमें भले ही बहुत-सी खामियां हैं, लेकिन खूबियां भी हैं। मैं अपनी खामियों और खूबियों दोनों को स्वीकार करती हूं।

3. मैं अपनी गलतियों और कमजोरियों को लेकर हीन भावना से ग्रस्त नहीं हूं।

4. मैं अपना सम्मान करती हूं और दूसरों से प्यार और सम्मान पाने की हकदार हूं।

5. मैं जीवन में बहुत कुछ हासिल करने का इरादा रखती हूं। मुझे अपनी काबिलियत पर भरोसा है। मैं मेहनत पर यकीन करती हूं।

कहने का सार यही है कि खुद को आप जितना अहमियत देंगी, आपका आत्मविश्वास उतना ही ज्यादा मजबूत होगा।

Share it
Top