logo
Breaking

होम्योपैथिक दवाइयां नहीं है पूरी तरह सुरक्षित, जानिए कैसे पहुंचा सकती है नुकसान

एलोपैथ की तुलना में होम्योपैथ बिना केमिकल का विकल्प है।

होम्योपैथिक दवाइयां नहीं है पूरी तरह सुरक्षित, जानिए कैसे पहुंचा सकती है नुकसान
नई दिल्ली. आमतौर पर ये धारणा है कि होम्योपैथिक दवाएं सबसे ज्यादा सुरक्षित और प्रभावशील होती हैं। काफी हद तक ये बात सही भी है। ये सही है कि एलोपैथ की तुलना में होम्योपैथिक कम केमिकल का विकल्प है। इसके बावजूद ये भी सही है कि इसके कुछ साइड इफेक्ट्स भी हो सकते हैं। लाइव नेक्सट की खबर के अनुसार, हर मायने में ये फायदेमंद भी नहीं होती, कभी-कभी ये नुकसानदायक भी हो सकती है। आइए जानें कैसे ये होम्योपैथ आपके शरीर को पहुंचा सकती है नुकसान।
1 . होम्योपैथिक दवाओं का सबसे बड़ा नुकसान ये है कि किसी आपातकाल स्थिति में ये दवाएं किसी काम की नहीं होती हैं। इसका कारण साफ है कि ये दवाएं धीरे-धीरे असर करती हैं। सर्जरी या अन्य किसी स्थिति में जिस समय मरीज को तुरंत इलाज की जरूरत होती है तो ये होम्योपैथ आपकी किसी भी तरह से मदद नहीं कर सकती।
2 . पोषण संबंधी समस्या या पोषण की कमी होने की स्थिति में ये होम्योपैथिक दवा बिल्कुल भी असरकारी नहीं होती। उदाहरण के रूप में एनिमिया या आयरन की कमी या अन्य तत्वों की कमी होने पर ये दवाएं बिल्कुल बेअसर साबित होती हैं।
3 . होम्योपैथ का साइड इफेक्ट ये भी है कि डॉक्टर की दी गई दवाओं का सेवन अगर निश्चित समय से ज्यादा सीमा तक किया जाए तो इसका ओवरडोज भी आपको नुकसान पहुंचा सकता है। इस वजह से आपके पेट में इंफेक्शन व अन्य परेशानियां भी हो सकती हैं।
आगे की स्लाइड्स में पढ़िए, खबर से जुड़ी अन्य जानकारियां-
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Share it
Top