Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

World Diabetes Day 2019 : वर्ल्ड डायबिटीज डे 2019 की थीम, इतिहास और जानिए क्यों मनाया जाता है वर्ल्ड डायबिटीज डे

World Diabetes Day 2019 / वर्ल्ड डायबिटीज डे 2019: हर साल 14 नंवबर को विश्व मधुमेह दिवस मनाया जाता है। मधुमेह को आम बोलचाल में डायबिटीज या शुगर की बीमारी कहा जाता है। इस दिन लोगों को डायबिटीज से शरीर पर पड़ने वाले दुष्प्रभाव और उससे बचने के उपायों के बारे में बताया जाता है। वर्ल्ड डायबिटीज डे 2019 की थीम द फैमिली एंड डायबिटीज (World Diabetes Day 2019 Theme The Family and Diabetes) रखी गई है। ऐसे में आज हम आपको वर्ल्ड डायबिटीज डे का इतिहास और इसे मनाने के कारण बता रहे हैं।

World Diabetes Day 2019 :  वर्ल्ड डायबिटीज डे 2019 की थीम, इतिहास और जानिए क्यों मनाया जाता है वर्ल्ड डायबिटीज डेवर्ल्ड डायबिटीज डे 2019

World Diabetes Day 2019 : आज के दौर में सबसे डायबिटीज दुनिया की गंभीर बीमारियों या महामारी में से एक मानी जाती है, इसलिए हर साल विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization WHO) हर साल 14 नवंबर को वैश्विक स्तर पर लोगों में डायबिटीज होने के कारण, लक्षण और उपचार के अलावा डायबिटीज से जुड़ी सावधानियों के बारे में जागरुकता बढ़ाने के लिए सरकारी और गैर सरकारी संगठनो के जरिए कई कार्यक्रमों का आयोजन करता है। साल 2019 में रखी गई थीम के मुताबिक डायबिटीज को कंट्रोल करने में परिवार की भूमिका को अहम बताया गया है। वर्ल्ड डायबिटीज डे 2019 पर जानते हैं इसका इतिहास और मनाने की वजह...

वर्ल्ड डायबिटीज डे 2019 की थीम (World Diabetes Day 2019 Theme )

डायबिटीज पेशेंट्स को डायबिटीज के दुष्प्रभावों से बचाने में परिवार की भूमिका को महत्व पूर्ण मानते हुए, वर्ल्ड डायबिटीज डे की थीम 2019 (Diabetes Day 2019 Theme) में द फैमिली एंड डायबिटीज (The Family and Diabetes) रखी गई है।

डायबिटीज क्या है (What Is Diabetes)

डायबिटीज, शरीर में इंसुलिन की मात्रा बढ़ने की स्थिति को कहा जाता है। आसान शब्दों में रक्त में शामिल शुगर की मात्रा बढ़ने पर होने वाली बीमारी को डायबिटीज कहा जाता है। डायबिटीज की बीमारी होने पर मरीज को आमतौर पर मीठा कम खाने की सलाह दी जाती है, जिससे शरीर में मौजूद इंसुलिन की मात्रा को नियंत्रित किया जा सके। लगातार शरीर में शुगर के स्तर में वृद्धि होने पर कई आंखों, दिल और किडनी पर बेहद बुरा असर पड़ता है, इसलिए इसे हमेशा नियंत्रित रखना बेहद आवश्यक होता है।




वर्ल्ड डायबिटीज डे का इतिहास (World Diabetes Day History)

हर साल वर्ल्ड डायबिटीज डे पर विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) और अंतर्राष्ट्रीय मधुमेह महासंघ (IDF) मिलकर लोगों को डायबिटीज के साइड इफेक्ट्स के बारे में जागरुक करने के लिए वैश्विक स्तर पर कई कार्यक्रमों का आयोजन करते हैं। इस दिन को मनाने के लिए 200 से अधिक देशों में एक साथ जागरुकता अभियान चलाए जाते हैं। जिसमें गैर सरकारी संगठन, एक्सपर्ट्स और आम लोग शामिल होते हैं।

वर्ल्ड डायबिटीज डे लोगो ((World Diabetes Day Logo)

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) और अंतर्राष्ट्रीय मधुमेह महासंघ (IDF) ने मिलकर वर्ल्ड डायबिटीज डे को प्रचारित और प्रसारित करने के लिए एक नीला चक्र रखा गया है। जो दुनिया के लोगों को डायबिटीज और उससे बचने के उपायों के बारे मूक संदेश वाहक के रुप में जागरुकता फैलाने का काम करता है।




14 नवंबर को वर्ल्ड डायबिटीज डे मनाने की वजह (Reason For Celebrating World Diabetes Day on 14 November)

14 नवंबर को वर्ल्ड डायबिटीज डे को मनाने का प्रमुख कारण, इंसुलिन की खोज करने वाले फ्रेडरिक बैंटिंग नामक वैज्ञानिक का जन्म हुआ था। फ्रेडरिक बैंटिंग ने साल 1922 में चार्ल्स बेस्ट के साथ मिलकर डायबिटीज में इंसुलिन (कृत्रिम शुगर विकल्प) की खोज की थी।

वर्ल्ड डायबिटीज डे पर कैसे करें लोगों को जागरुक (How To People Aware on World Diabetes Day)

  1. सार्वजनिक रुप से बैठकें और व्याख्यानों का आयोजन करना
  2. वयस्कों और बच्चों के बीच खेलों का आयोजन करना
  3. टेलीविजन और रेडियो कार्यक्रम के जरिए
  4. ब्रॉशर और पोस्टर कैपेंन का आयोजन करना
  5. प्रदर्शनियों और सेमिनार का आयोजन करना
Next Story
Top