Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Health Tips: कोरोना हो या नहीं, जिम में रखेंगे इन बातों का ख्याल तो कभी नहीं होगा इंफेक्शन

कोरोना वायरस ही नहीं आम दिनों में भी जिम करते समय बिना साफ किये हुए मशीन को टच न करें। इससे इनफेंक्शन फैल सकता है। जिसकी वजह से काेरोना ही नहीं आम दिनाें में भी दिक्कत हो सकती है।

मेंटेन करते रहें हेल्थ-फिटनेस
X
हैल्थ फिटनैस (प्रतीकात्मक फोटो)

कोरोना वायरस के चलते पूरी दुनियाभर में दहशत का माहौल है। इस महामारी के बढ़ते खतरे को देखते हुए सरकार ने मॉल, पब और अन्य जगहों के साथ जिम को बंद करने का ऐलान किया है। कई लोगों के मन में सवाल है कि जिम में सक्रंमण का खतरा कैसे हो सकता है। अपने आप को फिट रखने के फितूरी लोग एक भी दिन जिम मिस नहीं करना चाहते। लेकिन, शायद उन्हें इस बात का अंदाजा नहीं है कि सिर्फ इस कोरोना वायरस के संकट के समय ही नहीं बल्कि आम तौर पर भी जिम में संक्रमण के खतरों का सामना करते हैं। इस रिपोर्ट में हम आपको ऐसे ही कई बातों के बारे में बता रहे हैं, जब आप जानें-अनजाने संक्रमण या अन्य स्वास्थ्य संबंधित समस्याओं की चपेट में आ जाते हैं। इसके साथ ही इनसे बचने के लिए क्या सावधानियां बरतनी चाहिए इसके बारे में भी जान लीजिए।

पसीने से होती है समस्या

दरअसल, वर्कआउट के समय लोगों के शरीर से निकलने वाला पसीना, दूसरे लोगों के परेशानी के सबसे बड़े कारण हैं। दूसरों का पसीना मशीनों और जिम के उपकरणों में चिपक जाता है, जिससे संपर्क में आने से खुजली और दाद जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ता है।

क्या करें- जिम में किसी भी उपकरण या मशीन के इस्तेमाल से पहले उन्हें अच्छी तरह साफ कर लें।

खांसी-जुकाम बेहद आम

कॉमन कोल्ड या खांसी-जुकाम का संक्रमण लोगों में बेहद आम है। लेकिन, इसके पीड़ित ज्यादा सावधानी न बरतते हुए यहां-वहां खांसते या छिंकते हुए मिल ही जाते हैं। जिम भी इससे अछूता नहीं है। ऐसे में जिम में इसके संक्रमण में आने के चांस काफी अधिक है।

क्या करें- वर्कआउट खत्म होते ही अपने आप को डिसइंफेक्ट करें। इसके लिए एल्कोहल सेनेटाइजर या हैंडवॉश का इस्तेमाल करें।

रैशेज की मार से स्किन बीमार

जिम में रैशेज की समस्या भी आम है। जिन जिम में हॉट टब बाथ या पूल जैसी सुविधाएं हैं, वहां अक्सर लोग रैशेज के शिकार हो जाते हैं। इसमें त्वचा पर लाल निशान या दाने निकल आते हैं। इसके कई कारण हो सकते हैं जैसे-पानी में क्लोरीन की मात्रा अधिक होना, पानी साफ न होना, किसी पहले से इन्फेक्टेड व्यक्ति के इस्तेमाल के बाद पूल में स्वीमिंग करने जाना।

क्या करें- पूल या टब का इस्तेमाल करने से पहले आपको उसकी सफाई सुनिश्चित करनी चाहिए।

एक्सरसाइज करते हुए पहनें सही कपड़ें

सिर्फ यही नहीं, आपके कपड़ों के कारण भी आपके शरीर में लाल चकत्तों का सामना करना पड़ सकता है। दरअसल, जिन कपड़ों में पसीना सोखने की क्षमता नहीं होती, उनके इस्तेमाल के चलते इंफेक्शन होने के चांस होते हैं।

क्या करें- अपने जिम के कपड़ों का फैब्रिक हमेशा जांच कर ही लें। इसके अलावा गलत साइज के कपड़े पहनने से भी बचें।

Next Story