Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Corona Virus: इंडियन साइंटिस्ट की बड़ी कामयाबी, बेहद कम समय में रिजल्ट देगी ये 'Feluda' टेस्ट स्ट्रिप

Coronavirus: जहां दुनिया में चारों तरफ कोरोना के कारण निराशा देखने को मिल रही है। वहीं इसी बीच भारतीय वैज्ञानिकों ने बड़ी कामयाबी हासिल की है। भारत के साइंटिस्ट ने मिलकर 'Feluda' टेस्ट स्ट्रिप तैयार किया है। जिसके जरिए एक घंटे के अंदर ही रिजल्ट का पता लग जाएगा।

Corona Virus: इंडियन साइंटिस्ट की बड़ी कामयाबी, बेहद कम समय में रिजल्ट देगी ये Feluda टेस्ट स्ट्रिप
X

Coronavirus: कोरोना का खतरा दुनिया के ज्यादातर देशों में देखने को मिल रहा है। इसके कारण चारों तरफ काफी निराशा छाई हुई है। वहीं अगर भारत की बात करें तो इसकी चपेट में आने वालों की संख्या लगातार बढ़ती ही जा रही है। इसी बीच इंडियन साइंटिस्ट ने बड़ी कामयाबी हासिल की है। भारतीय वैज्ञानिकों ने कोरोना वायरस के टेस्ट के लिए पेपर बेस्ड स्ट्रिप तैयार की है। जिसके जरिए एक घंटे के अंदर कोरोना वायरस का पता लग जाएगा।

स्ट्रिप द्वारा कोरोना का पता मिनटों में लग जाएगा

यह स्ट्रिप काउंसिल ऑफ साइंटिफिक एंड इंडस्ट्रियल रिसर्च के इंस्‍टीट्यूट ऑफ जीनॉमिक्‍स एंड इंटीग्रेटिव बॉयलजी (CSIR-IGIB) की टीम द्वारा बनाई गई है। वहीं इस स्ट्रीप का नाम Feluda रखा गया है। इस स्ट्रिप द्वारा कोरोना का पता मिनटों में लग जाएगा।

ज्यादा रूपये भी खर्च नहीं करने होंगे

Feluda टेस्ट स्ट्रिप की सबसे खास बात यह है कि इसके लिए ज्यादा रूपये भी खर्च नहीं करने होंगे। इस स्ट्रिप की मदद से एक घंटे से भी कम समय में कोरोना वायरस का पता लग जाएगा।

ये स्ट्रिप प्रेग्नेंसी टेस्ट स्ट्रिप की तरह ही काम करती है

इसके साथ ही आपको बता दें कि रियल टाइम पॉलीमर्ज चैन रिएक्‍शन टेस्‍ट (RT-PCR) का दाम प्राइवेट लैब्स में तकरीबन 4500 है। वहीं Feluda टेस्ट में महज 500 रूपये का खर्चा आता है। ये स्ट्रिप बिल्कुल प्रेग्नेंसी टेस्ट स्ट्रिप की तरह ही काम करती है।

ये स्ट्रिप 100 प्रतिशत सही रिजल्ट देती है

CSIR ने डायरेक्‍टर जनरल शेखर सी. मंडे ने बताया कि इस स्ट्रिप का इस्तेमाल करने के लिए किसी भी तरह की मशीन की जरूरत नहीं पड़ती है। इसके साथी ही ये 100 प्रतिशत सही रिजल्ट देती है। इस टेक्टनीक का यूज जीका वायरस का पता लगाने के लिए भी किया गया था।

इस स्ट्रिप की सेंसिटिविटी टेस्‍ट की जा रही है

वहीं आपको बताना चाहेंगे कि इसका नाम Feluda कैसे पड़ा। बताया जा रहा है कि इंडियन साइंटिस्ट इस टूल पर पिछले 2 साल से काम कर रहे हैं। इसके साथ ही इसका नाम फेलू दा नाम फिल्‍मकार सत्‍यजीत रे के बनाए एक काल्‍पनिक जासूस के नाम पर रखा गया है। वहीं टीम अभी फिलहाल इस स्ट्रिप की सेंसिटिविटी टेस्‍ट कर रही है।

Shagufta Khanam

Shagufta Khanam

Jr. Sub Editor


Next Story