Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Corono Virus : क्या है कोरोना वायरस, जानें लक्षण और बचाव के उपाय

Corono Virus : कोरोना वायरस चीन से निकल कर एशिया के दूसरे शहरों में पहुंच गया है। इस वायरस के पीड़ित जापान, थाइलैंड और दक्षिण कोरिया में भी पाए गए हैं। वहीं इस वायरस के चलते भारत और कई देशों ने चीन की यात्रा करने वालों को अलर्ट जारी किया है। तो चलिए ऐसे में जानते हैं कि कोरोना वायरस क्या है, क्या है लक्षण और इससे कैसे बचाव करें।

Corono Virus : क्या है कोरोनो वायरस, कैसे करें इससे बचावकोरोनो वायरस(फाइल फोटो)

पिछले दो महीने से चीन के कई शहरों में कोरोना वायरस फैला हुआ है। इस वायरस से पीड़ितों के तकरीबन 230 मामले सामने आ चुके हैं। जिसका लगभग 17 लोग शिकार हो चुके हैं। तभी से यह चिंता का विषय बना हुआ है। अब यह वायरस चीन से निकल कर एशिया के दूसरे शहरों में पहुंच गया है। इस वायरस के पीड़ित जापान, थाइलैंड और दक्षिण कोरिया में भी पाए गए हैं। वहीं इस वायरस के चलते भारत और कई देशों ने चीन की यात्रा करने वालों को अलर्ट जारी किया है। तो चलिए ऐसे में जानते हैं कि कोरोना वायरस क्या है, क्या है लक्षण और इससे कैसे बचाव करें।

क्या है कोरोना वायरस

वायरसों का एक बड़ा समूह है कोरोना जो जानवरों में आम होता है। यह वायरस जानवरों से लेकर इंसानों तक पहुंच जाता है। अब एक नया चीनी कोरोना वायरस, सार्स वायरस की तरह है जिसने सैकड़ों को संक्रमित किया है। यह वायरस सी-फूड से जुड़ा हुआ है। इसकी शुरुआत चीन के हुवेई प्रांत के वुहान शहर के एक सी-फूड बाजार से ही हुई मानी जा रही है।

कोरोना वायरस के लक्षण

सिरदर्द

नाक बहना

खांसी

गले में ख़राश

बुखार

अस्वस्थता का अहसास होना

छींक आना, अस्थमा का बिगड़ना

थकान महसूस करना

निमोनिया, फेफड़ों में सूजन

कोरोना वायरस से बचाव के उपाय

-सके सी-फूड से दूर रहें।

-साफ-सफाई का ध्यान रखें।

-कुछ भी खाने से पहले अपने हाथ अच्छी तरह साफ करें।

-सिर्फ पानी से नहीं बल्कि साबुन या हैंडवॉश से धोएं।

-अपने साथ हैंड सेनिटाइजर हमेशा रखें।

-पब्लिक ट्रांसपोर्ट का यूज करने के बाद हाथ साफ किए बिना उन्हें अपने चेहरे और मुंह पर ना लगाएं।

-बीमार लोगों की देखभाल के दौरान अपनी सुरक्षा का पूरा ध्यान रखें।

-जिन्हें सर्दी या फ्लू जैसे लक्षण हों, उनके साथ करीबी संपर्क बनाने से बचें।

-मीट और अंडों को अच्छे से पकाएं।

-जंगल और खेतों में रहने वाले जानवरों के साथ असुरक्षित संपर्क न बनाएं।

Shagufta Khanam

Shagufta Khanam

Jr. Sub Editor


Next Story
Top