Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Sunday Special: हर लड़की के लिए बहुत जरूरी है पीरियड्स से जुड़ी ये बातें जानना, इस लेख में मिल जाएगा कई सवालों का जवाब

Sunday Special: पीरियड्स एक ऐसी प्रतिक्रिया है जो 12 साल की उम्र से शुरू होकर 50 साल की उम्र तक चलती है। यह हर महीने 3 से 7 दिनों के लिए होता है। हालांकि आज स्कूलों में इस बारे में लड़कियों को पहले से ही बताया दिया जाता है। ताकि वे इस समय घबराएं नहीं। लेकिन फिर भी बहुत सी लड़कियां इसके बारे में बात करने से शर्माती हैं। जिस वजह से वे इस समय में होने वाली परेशानियों को किसी से साझा नहीं कर पाती हैं। वहीं पीरियड्स से जुड़ी कुछ बातें हर लड़कियों को पता होना जरूरी है।

Sunday Special: हर लड़की के लिए बहुत जरूरी है पीरियड्स से जुड़ी ये बातें जानना, इस लेख में मिल जाएगा कई सवालों का जवाब
X

Sunday Special: पीरियड्स एक ऐसी प्रतिक्रिया है जो 12 साल की उम्र से शुरू होकर 50 साल की उम्र तक चलती है। यह हर महीने 3 से 7 दिनों के लिए होना है। हालांकि आज स्कूलों में इस बारे में लड़कियों को पहले से ही बताया दिया जाता है। ताकि वे इस समय घबराएं नहीं। लेकिन फिर भी बहुत सी लड़कियां इसके बारे में बात करने से शर्माती हैं। जिस वजह से वे इस समय में होने वाली परेशानियों को बारे में किसी से साझा नहीं कर पाती हैं। वहीं पीरियड्स से जुड़ी कुछ बातें हर लड़कियों को पता होना जरूरी है। इसी बीच आज हम तमाम लड़कियों की मदद के लिए पीरियड्स से जुड़ी जानकारी देने जा रहे हैं। तो आइए जानते हैं इस बारे में।

क्या होता है मासिक धर्म

साइंस की भाषा में इसे मेंस्ट्रुएशन साइकिल कहते हैं। शारीरिक प्राकृतिक प्रकिया हर महिलाओं को होती है। एक लड़की के अंडाशय में लाखों अपरिपक्व अंडे होते हैं, जो टीनेऐज में हार्मोनल चैंज की कारण विकसित होना शुरू हो जाते हैं। इनमें से एक अंडा हर महीने ओवरी से बाहर निकलकर गर्भाशय में आ जाता है और इन परिपक्व अंडों के साथ किसी के साथ निषेचन नहीं होता है तो यह अंडे फूट कर ब्लड के रूप में योनि मार्ग के द्वारा बाहर आता है। वहीं जब इन अंडो का निषेचन हो जाता है तो महिला कंसीव कर लेती है।

किस उम्र में होते हैं पीरियड्स

वैसे तो पीरियड्स शुरू और खत्म होने की कोई निश्चित उम्र नहीं है। यह लड़की के खानपान और लाइफस्टाइल पर निर्भर करता है। पीरियड्स के शुरू होने की उम्र 12 साल और खत्म होने की उम्र 50 साल मानी जाती है। पीरियड्स के खत्म होने को मेनोपॉज कहते हैं। इस स्तिथि में महिला के मासिक धर्म हमेशा के लिए बंद हो जाते हैं। ऐसे में बच्चा पैदा करने की स्तिथि में भी नहीं रहती हैं।

इर्रेगुलर पीरियड्स क्या होते हैं?

वहीं कुछ महिलाओं को अनियमित मासिक धर्म होने की भी दिक्कत रहती है। इसका कारण उनका गलत खानपान और लाइफस्टाइल होता है। ऐसे में महिला के पीरियड्स समय पर नहीं आते हैं। वहीं इसका एक कारण महीला की हेल्थ भी हो सकता है।

यह हैं मुख्य कारण

किसी गंभीर बीमारी का होना.

- गर्भाशय में इंफेक्शन होना

- गर्भनिरोधक गोलियां लेना

- नशीले पदार्थों का सेवन करना

- ब्रेस्टफीडिंग करवाना

- शरीर में खून की कमी होना

- कम या ज्यादा वेट होना

- ज्यादा एक्सरसाइज करना

इन परेशानियों को न करें अनदेखा, तरंत डॉक्टर से करें संपर्क

- 16 साल की उम्र के बाद भी पीरियड्स न आना

- अचानक इर्रेगुलर पीरियड्स होना

- 21 दिन से कम पीरियड्स साइकिल होना

-पीरियड्स के दौरान बहुत तेज दर्द होना

इस दौरान पिजीकल रिलेशन बनाना चाहिए?

आप सुरक्षित रखते हुए और सावधानी बरतते हुए पिजीकल रिलेशन बना सकती हैं। ऐसे में आपके पीरियड्स दर्द से भी राहत मिलती है।

इन दो चीजों से करें परहेज

महिलाओं को पीरियड्स के दौरान केला और दही बिल्कुल नहीं खाना चाहिए। इन्हें खाने के कुछ ही मिनट से पेट दर्द और क्रैंप्स की दिक्कत बढ़ सकती है।

Also Read: Watermelon Side Effects: तरबूज के फायदे तो सभी जानते हैं, एक बार इसके नुकसान भी जान लें

इन चीजों का करें सेवन

- दलिया

- मखाने

-ओट्स

- मिलेट्स

- छुआरे

-पोहा

- मूंग दाल की खिचड़ी

- मूंग-मसूर की दाल

और पढ़ें
Next Story