Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

संजय दत्त को हुआ लंग कैंसर, जानें इसके लक्षण और आप कैसे रह सकते हैं इस बीमारी से महफूज

लंग कैंसर फेफड़ों से शुरू होता है और फिर गुर्दे, दिमाग, लिवर और हड्डियों में फैलने लगता है। आपको बता दें तकरीबन 67 हजार लोग हर साल लंग कैंसर की चपेट में आते हैं। इसका शिकार पुरूष और महिलाएं दोनों होते हैं। लंग कैंसर सिर्फ घूम्रपान या शराब से ही नहीं बल्कि लगातार बढ़ते पॉल्यूशन और गलत खान पान के कारण भी होता है।

संजय दत्त को हुआ लंग कैंसर, जानें इसके लक्षण और आप कैसे रह सकते हैं इस बीमारी से महफूज
X

बॉलीवुड एक्टर संजय दत्त कैंसर का शिकार हो गए हैं। हाल ही में उन्हें सांस लेने में दिक्कत होने के चलते लीलावती हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया था। इसी बीच खबर आई कि संजय लंग कैंसर के तीसरे स्टेज से जूझ रहे हैं। इस बात की जानकारी उन्होंने अपने इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट के जरिए दी। खबर है कि वो इलाज के लिए अमेरिका रवाना हो गए हैं। इसी बीच आज हम आपको लंग कैसर से जुड़ी तमाम जानकारी देने जा रहे हैं। इसके साथ ही आपको बताएंगे कि इस बीमारी से कैसे बचा जा सकता है। तो आइए जानते हैं लंग कैंसर के बारे में।

लंग कैंसर क्या है

लंग कैंसर फेफड़ों से शुरू होता है और फिर गुर्दे, दिमाग, लिवर और हड्डियों में फैलने लगता है। आपको बता दें तकरीबन 67 हजार लोग हर साल लंग कैंसर की चपेट में आते हैं। इसका शिकार पुरूष और महिलाएं दोनों होते हैं। लंग कैंसर सिर्फ घूम्रपान या शराब से ही नहीं बल्कि लगातार बढ़ते पॉल्यूशन और गलत खान पान के कारण भी होता है।

लंग कैसर के लक्षण

- सांस लेने में दिक्कत होना

- छाती में असहनीय दर्द होना

- अचानक भूख कम लगना

- थकावट महसूस होना

- बलगम या खून वाली खांसी होना

- हड्डियों में दर्द होना

- चेहरे और गले में सूजन होना

लंग कैंसर का इलाज

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि लंग कैंसर 4 तरह का होता है। पहला एडेनोकार्सिनोमा, दूसरा स्क्वैमस सेल कैंसर, तीसरा बड़े सेल कार्सिनोमा और चौथा नॉन-स्माल सेल लंग कैंसर। इसका इलाज स्टेज टाइप के हिसाब से किया जाता है। मरीज के स्टेज व टाइप के हिसाब से उन्हें रेडिएशन, कीमोथेरेपी, सर्जरी या टारगेटेड थेरेपी दी जाती है।

Also Read: आखिर क्यों तड़प जाती हैं महिलाएं सूतिका ज्वर से, जानें इसके लक्षण और कारण

ऐसे करें बचाव

- प्रदूषण से बचें

- पूरे दिन में कम से कम 8-9 गिलास पानी जरूर पीएं

- हरी सब्जियां, जूस, मौसमी फल, नारियल पानी का सेवन ज्यादा करें

- घर में एयर प्यूरिफायर का इस्तेमाल करें

- स्मोकिंग, शराब, तंबाकू, ई-सिगरेट जैसी चीजों से दूर रहें

Shagufta Khanam

Shagufta Khanam

Jr. Sub Editor


Next Story