Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

इस तरह तुलसी खाने से फायदे नहीं बल्कि मिलते हैं नुकसान

तुलसी में विटामिन, कैल्शियम, आयरन के गुण पाए जाते हैं। तुलसी का सेवन करने से सर्दी, जुकाम जैसी बीमारियों से भी शरीर बचा रहता है। वहीं कोरोना काल में तुलसी का सेवन बहुत ही फायदेमंद साबित हो सकता है क्योंकि यह आपका इम्यून सिस्टम को मजबूत करने में भी मदद करता है। इसके साथ ही आपको बता दें कि अगर तुलसी का जरूरत से ज्यादा सेवन किया जाए तो इससे शरीर को फायदे होने के बजाए नुकसान होने का भी डर रहता है।

इस तरह तुलसी खाने से फायदे नहीं बल्कि मिलते हैं नुकसान
X

तुलसी खाने के नुकसान (फाइल फोटो)

भारत के ज्यादातर घरों में तुलसी का पौधा मौजूद होता है। आयुर्वेद में तुलसी को औषधी से कम नहीं माना जाता है। तुलसी में विटामिन, कैल्शियम, आयरन के गुण पाए जाते हैं। तुलसी का सेवन करने से सर्दी, जुकाम जैसी बीमारियों से भी शरीर बचा रहता है। वहीं कोरोना काल में तुलसी का सेवन बहुत ही फायदेमंद साबित हो सकता है क्योंकि यह आपका इम्यून सिस्टम को मजबूत करने में भी मदद करता है। इसके साथ ही आपको बता दें कि अगर तुलसी का जरूरत से ज्यादा सेवन किया जाए तो इससे शरीर को फायदे होने के बजाए नुकसान होने का भी डर रहता है। इसी बीच आज हम आपको बताएंगे कि अगर तुलसी का ज्यादा सेवन किया जाए तो क्या नुकसान हो सकते हैं।

प्रेग्नेंट महिला

तुलसी में यूजेनॉल नाम का तत्व पाया जाता है। जो पीरियड्स की समस्या को दूर करता है। ऐसे में गर्भावस्था में तुलसी का सेवन करने से महिला को पीरियड्स को भी आ सकते हैं। इसके साथ ही गर्भाशय सिकुड़ सकता है। ऐसे में महिला को डिलीवरी के समय काफी परेशानी हो सकती है।

रक्त पतला

तुलसी में कई ऐसे तत्व पाए जाते हैं, जो खून को पतला करने का काम करते हैं। वहीं तुलसी का ज्यादा सेवन करने से खून पतला होने की शिकायत हो सकती है।

एसिडिटी

तुलसी की तासीर गर्म होती है। ऐसे में अगर आप तुलसी का जरूरत से ज्यादा सेवन करते हैं तो आपको पेट में जलन, दर्द और एसिडिटी की शिकायत हो सकती है।

Also Read: कोरोना पॉजिटिव होने पर सिर्फ 30 सेकंड्स में मारा जा सकता है कोरोना वायरस, जानें कैसे

डायबिटीज

डायबिटीज के रोगी को तुलसी का सेवन करने से बचना चाहिेए। क्योंकि डायबिटीज को कंट्रोल करने के लिए मरीज कई दवाइयों का सेवन करता है। ऐसे में तुलसी का सेवन करने से शुगर लेवल कम होने का डर रहता है।

Next Story