Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Periods Pain : पीरियड्स में पेट दर्द के कारण और उपचार

Periods Pain : पीरियडस (Periods) महिलाओं में हर महीने होने वाली एक सामान्य समस्या है। जिसमें महिलाओं को असहनीय दर्द से गुजरना पड़ता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि महिलाओं को पीरियड्स के दौरान में पेट दर्द क्यों होता है। अगर नहीं, तो आज हम आपको पीरियडस में होने वाले दर्द के कारण, पीरियड्स पेन (Periods Pain) होने की वजह या गलतियों के बारे में बता रहे हैं। जिन्हें अक्सर महिलाएं अनजाने में करती हैं। आइए जानते हैं कैसे आपकी गलतियां पीरियड्स में पेट दर्द के (Period Pain) लिए जिम्मेदार गलतियों (Mistakes) के बारे में....

Period Pain : पीरियड्स में पेट दर्द के कारण और उपचारPeriod Pain Causes and Treatment In Hindi

Periods Pain : पीरियडस (Periods) महिलाओं में हर महीने होने वाली एक सामान्य समस्या है। जिसमें महिलाओं को असहनीय दर्द से गुजरना पड़ता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि महिलाओं को पीरियड्स के दौरान में पेट दर्द क्यों होता है। अगर नहीं, तो आज हम आपको पीरियडस में होने वाले दर्द के कारण, पीरियड्स पेन (Periods Pain) होने की वजह या गलतियों के बारे में बता रहे हैं। जिन्हें अक्सर महिलाएं अनजाने में करती हैं। आइए जानते हैं कैसे आपकी गलतियां पीरियड्स में पेट दर्द के (Period Pain) लिए जिम्मेदार गलतियों (Mistakes) के बारे में....

Mistakes For Periods Pain / पीरियड्स में दर्द के लिए जिम्मेदार गलतियां




1.अगर आप भी पीरियड्स के दौरान होने वाले पेट दर्द से परेशान रहती है, तो क्या आप अक्सर पीरियड डेट को भूल जाती हैं। क्योंकि आमतौर पर महिलाएं पीरियड डेट आने से पहले ही अपनी सेहत के साथ सभी जरुरी चीजों का ख्याल रखना शुरु कर देती हैँ। जिससे दर्द में राहत मिलती हैं।

2.आमतौर पर पीरियड के समय में महिलाएं खूशबुदार या सेटेंड सेनेटरी पैड और टैम्पोन का इस्तेमाल करती हैं। लेकिन इन पैड में खुशबू मिलाने के लिए कई तरह के रसायनों यानि कैमिकल्स का उपयोग किया जाता है। जिसका लंबे समय तक प्रयोग करने से उसका असर आपके प्राइवेट पार्ट पर पड़ता है। जिससे महिलाओं को पेट दर्द के अलावा प्राइवेट पार्ट में खुजली और जलन की समस्या होने लगती है।




3.पीरियड्स में पेट दर्द के लिए लंबे समय तक एक ही पैड या टैम्पोन का यूज करना भी होता है। क्योंकि पैड और टैम्पोन को बनाने में कैमिकल्स का इस्तमाल किया जाता है। ऐसे मे 3-4 घंटे से ज्यादा यूज करने से स्किन इंफेक्शन होने के साथ स्किन में खुजली की समस्या हो सकती है।

4. शरीर में आयरन और कैल्शियम जैसे पौषक तत्वों की कमी होने से भी पीरियड्स में पेट दर्द की समस्या बढ़ जाती है। क्योंकि इस दौरान शरीर से बहुत सारे मिनरल्स और आवश्यक तत्व शरीर से बाहर निकल जाते हैं। जिससे शरीर में कमजोरी के साथ पेट दर्द होने की शिकायत बढ़ जाती है।


5. घर और ऑफिस के कामों के बीच में अक्सर महिलाएं पूरी नींद नहीं लेती हैं। जिसका नकारात्मक असर सेहत के साथ पीरियड्स में होने वाले दर्द का भी एक मुख्य कारण हैं। क्योंकि इस दौरान शरीर में ऐंठन, चिड़चिड़ापन बढ़ जाता है।

6. अगर आप भी अन्य महिलाओं की तरह पीरियड्स के दौरान पेट में होने वाले दर्द से बचने के लिए पेनकिलर खाना पसंद करती है। तो आपको बता दें कि ज्यादा पेनकिलर का सेवन करने से शरीर की इम्यून सिस्टम पर नाकरात्मक प्रभाव पड़ता है। इसके साथ ही अन्य बीमारी या यूरिन इंफेक्शन होने का खतरा बढ़ जाता है।



7.पीरियड्स में पेट दर्द के लिए कम पानी पीना भी एक अहम भूमिका निभाता है। क्योंकि इस दौरान शरीर और सेहत के लिए जरुरी बहुत सारे तत्व ब्लीडिंग के जरिए बाहर निकल जाते हैं। इसके अलावा पेट में सूजन और ऐंठन को साफ और स्वच्छ पानी पीने से आसानी से पूरा किया जा सकता है।

8. अगर आप पीरियड्स के दौरान ज्यादा मात्रा में चाय या कॉफी का सेवन करते हैं, तो इससे पेट में दर्द की समस्या में बढ़ सकती हैं। क्योंकि ज्यादा कॉफी का सेवन करने से शरीर में पानी की कमी होती है। जिससे पेट में मरोड़ या ऐंठन होने लगती है।





9.आमतौर पर महिलाएं पीरियड्स के दौरान ब्लड के कलर पर ध्यान नहीं देती हैं। क्योंकि कई बार ब्लड का कलर रेड, डार्क रेड या ब्राउन हो जाता है। जो आपकी किसी गंभीर बीमारी या इंफेक्शन का संकेत देता है।

10.अगर आप पीरियड्स के दौरान वैक्सिंग या थ्रेडिंग करवाती हैं। तो ये भी पेट और पैरों में होने वाले दर्द के लिए जिम्मेदार साबित होती हैं। क्योंकि पीरियड्स में शरीर और त्वचा बेहद कमजोर हो जाती है।




Period Pain Treatment / पीरियड्स में पेट दर्द के उपचार

1. खुश रहे और तनाव से बचें।

2. गर्म पानी से पेट की सिंकाई करें या गर्म पानी से नहाएं।

3. पीरियड्स में पेट दर्द से बचने के लिए एलोवेरा का जूस पीना फायदेमंद रहेगा। इसके साथ ही ज्यादा ब्लीडिंग भी सामान्य होगी।

4. पीरियड्स में दूध का सेवन करें या कैल्शियम टेबलेट्स का सेवन करें।

5. पीरियड्स में कई बार गैस बनने की वजह से भी महिलाओं के पेट में दर्द होता है। ऐसे में भुना हुआ जीरा या अजवायन को सेंधा नमक मिलाकर सेवन करें।

6. पीरियड्स में अदरक की चाय पीने से दर्द में राहत मिलती है। इसके अलावा अदरक के गुनगुने पानी का सेवन भी कर सकती हैं।

7. पीरियड्स के दर्द से छुटकारा पाने के लिए केला और पपीता खाना बेहद फायदेमंद होता है।

8. पीरियड्स में कमर व बदन दर्द को दूर करने के लिए जैतून और नारियल तेल को गुनगुना करके मसाज करें।

9. पीरियड्स में दर्द को दूर करने के लिए हल्की एक्सरसाइज या स्ट्रैचिंग करना उपयोगी रहेगा।

10. तुलसी को एक नेचुरल पेन किलर माना जाता है। ऐसे में पीरियड्स के दर्द को दूर करने के लिए पानी में तुलसी के 7-8 पत्ते डालकर उबालें और छानकर गुनगुना पीएं।

Share it
Top