Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

मानसून डाइट प्लान : बारिश के मौसम में ऐसे बनाएं अपना डाइट चार्ट

Monsoon Diet Plan : खान-पान सही हो तो इम्यून सिस्टम ठीक रहता है। इससे सीजनल इंफेक्शन का असर हेल्थ पर नहीं पड़ता और हम कम बीमार पड़ते हैं। जानिए, बारिश के मौसम में खान-पान में किन बातों का ध्यान रखा जाए, जिससे बीमारियां दूर रहें।

मानसून डाइट प्लान : बारिश के मौसम में ऐसे बनाएं अपना डाइट चार्टMonsoon Diet Plan Diet chart In Hindi

Monsoon Diet Plan : बारिश के मौसम में खान-पान की गलत आदतें, मौसम में बढ़ी हुई नमी, बैक्टीरियल इंफेक्शन और कमजोर इम्यूनिटी के कारण कई तरह की बीमारियां होने की संभावना बढ़ जाती है। ऐसे में जरूरी है कि बारिश के मौसम में बीमारियों से खुद का बचाव किया जाए। यह तभी मुमकिन है, जब इम्यून सिस्टम मजबूत होगा। बारिश के मौसम में इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाए रखने के लिए जरूरी है कि खान-पान और कुछ बातों का खास ख्याल रखा जाए।




कटे हुए फल-बासी भोजन न लें

बरसात के मौसम में बाहर का खाना नहीं खाना चाहिए। लेकिन लोग अकसर बाजार में मिलने वाले कटे फलों का सेवन करते हैं, जिससे बीमार होने की संभावना काफी बढ़ जाती है। इस मौसम में वातावरण में नमी अधिक होती है, जिससे बैक्टीरियल इंफेक्शन अधिक होता है। सिर्फ बाहर ही नहीं, घर में भी देर तक कटे फल या अधिक देर तक खुला रखा भोजन नहीं करना चाहिए।




रखें ध्यान

बारिश के मौसम खान-पान से जुड़ी छोटी-छोटी बातों को भी नजरअंदाज नहीं करना चाहिए।

- इस मौसम में हैवी फ्राई फूड जैसे पकौड़े, पूरी खाने का मन अधिक करता है लेकिन खुद को हेल्दी रखने के लिए हल्का भोजन ही करें।




-जहां तक संभव हो, बाहर के खाने से दूरी बनाएं। इस मौसम में बाहर का खाना आपको बीमार कर सकता है।

-अपनी इम्यूनिटी को बढ़ाने के लिए मौसमी फल और सब्जियों का सेवन ज्यादा करें।

-आप कुछ मसालों जैसे हल्दी और मेथीदाने के सेवन से भी इम्यूनिटी को मजबूत बना सकती हैं।




रहें हाइड्रेटेड

बारिश के मौसम में कई महिलाएं अपने वाटर इनटेक पर ध्यान नहीं देतीं। लेकिन इस मौसम में भी खुद को हाइड्रेटेड रखना जरूरी है। दरअसल, इस मौसम में ह्यूमिडिटी बढ़ती है, जिससे पसीना अधिक आता है और बॉडी डिहाइड्रेट हो जाती है। ऐसे में अगर वाटर इनटेक पर ध्यान न दिया जाए तो बीमार होने की संभावना काफी बढ़ जाती है।

इस मौसम में खुद को हाइड्रेटेड रखने के लिए पानी के अलावा नीबू पानी, नारियल पानी, छाछ और सूप लें। बारिश के मौसम में पानी से होने वाली बीमारियां भी अधिक होती हैं। ऐसे में पानी को उबाल कर पिएं, किचेन में इस्तेमाल होने वाले पानी और अन्य कामों में भी पानी की स्वच्छता का भी ध्यान रखें।

लेखिका - मिताली जैन

Share it
Top