Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Kidney Stone : गुर्दे में पथरी होने पर अपनाएं ये घरेलू नुस्खें, जानें क्यों तेजी से बढ़ रही है ये समस्या

Kidney Stone: गुर्दे में पथरी यूरीन सिस्टम की एक बीमारी है। जिसमें गुर्दे के अंदर छोटे छोटे पत्थक बन जाते हैं, जो मूत्रवाहिनी को ब्लॉक करती है। ऐसे में किडनी में यूरीन जमा होने का भी डर रहता है। गुर्दे में धीरे धीरे पत्थर बनते हैं और जब ये पत्थर बड़े हो जाते हैं, तो गुर्दे या यूरिनरी सिस्टम में इनके मूवमेंट की वजह से तेज दर्द या बार बार उल्टी आने जैसी दिक्कतें होने लगती हैं।

किडनी मरीज के लिए ज्यादा पानी पीना भी हो सकता है घातक, बहुत जरूरी है इससे जुड़ी सही जानकारी रखना
X
किडनी मरीज के लिए ज्यादा पानी पीना भी हो सकता है घातक, बहुत जरूरी है इससे जुड़ी सही जानकारी रखना (फाइल फोटो)

Kidney Stone: आजकल ज्यादातर लोगों में गुर्दे में पथरी की समस्या देखने को मिल रही है। गुर्दे में पथरी यूरीन सिस्टम की एक बीमारी है। जिसमें गुर्दे के अंदर छोटे छोटे पत्थक बन जाते हैं, जो मूत्रवाहिनी को ब्लॉक करती है। ऐसे में किडनी में यूरीन जमा होने का भी डर रहता है। गुर्दे में धीरे धीरे पत्थर बनते हैं और जब ये पत्थर बड़े हो जाते हैं, तो गुर्दे या यूरिनरी सिस्टम में इनके मूवमेंट की वजह से तेज दर्द या बार बार उल्टी आने जैसी दिक्कतें होने लगती हैं।

क्या हैं गुर्दे में पथरी होने के कारण

- परिवार में पहले से किसी को पथरी होना

- पानी कम पीना

- गलत लाइफस्टाइल

- नमक का ज्यादा मात्रा में सेवन करना

- पाचन तंत्र से जुड़ी दिक्कतें

ऐसे करें बचाव

पानी

वैसे भी इंसान को ढेर सारा पानी पीना चाहिए। इससे आप कई बीमारियों से बचें रहते हैं। आप दिनभर में कम से कम 7-8 गिलास पानी जरूर पिएं।

कैल्शियम

डाइट में कैल्शियम युक्त चीजों को शामिल करें। इसके लिए आप दूध और दही की मात्रा बढ़ाएं।

नमक

खाने में नमक का सेवन करें। इसके साथ ही आचार, पापड़ जैसी चीजों से परहेज करें।

चीनी

शरीर में शुगर की मात्रा बढ़ने पर कैल्शियम और मैग्नीशियम एब्जॉर्शन सही से नहीं होता है। इस वजह से गुर्दे में पथरी होने का खतरा बढ़ जाता है।

Also Read: Work From Home हेल्थ पर डाल रहा है बुरा असर, समय से पहले लोगों को बना रहा है बुजुर्ग

अपनाएं ये घरेलू नुस्खे

- इसके लिए आप एक गिलास पानी में बड़ी इलायची, 1 चम्मच मिश्री और थोड़े से खरबूजे के बीज भिगा दें और सुबह इस पानी को पिएं।

- हर रोज सुबह पानी के साथ 1 चम्मच आंवले का पाउडर खाएं।

- धनिया की पत्तिया, 1 नींबू और खीरे को 15 मिनट तक पानी में उबाल कर ठंडा करने के बाद पिएं।

- प्रतिदिन मूली का आधा कप पानी सुबह खाली पेट पीएं।

Next Story