Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

International Yoga Day 2019 : अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर जानें तनाव दूर करने वाले योग के फायदे

International Yoga Day 2019: 21 जून यानि शुक्रवार को भारत समेत दुनिया का लगभग हर देश विश्व योग दिवस (world Yoga Day) बड़ी ही धूमधाम से मनाया जाएगा। साल 2019 में इंटरनेशनल योग दिवस की थीम (International Yoga Day Theme) क्लाइमेट एक्शन (Climate Action)है। योग हमें शारीरिक ही नहीं बल्कि मानसिक रूप से भी स्वस्थ रखने में मदद करता है। योग (Yoga) और प्राणायाम (Pranayam) को भारत की देन कहना गलत नहीं होगा। क्योंकि भारत में साढ़े चार हजार साल से योगाभ्यास का इतिहास ( Yoga History) रहा है। इसलिए अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस (International Yoga Day 2019) पर आज हम आपको बिना साइड इफेक्ट्स के आज की सबसे बड़ी समस्या बन चुके तनाव को दूर करने के लिए योग (Yoga For Stress) बता रहे हैं।

International Yoga Day 2019 Stress Removing Yoga Benefits  In HindiInternational Yoga Day 2019 Stress Removing Yoga Benefits In Hindi

International Yoga Day 2019: 21 जून (21 June) यानि शुक्रवार (Friday) को भारत (India) समेत दुनिया (World) का लगभग हर देश विश्व योग दिवस (world Yoga Day) बड़ी ही धूमधाम से मनाया जाएगा। साल 2019 में इंटरनेशनल योग दिवस की थीम (International Yoga Day Theme) क्लाइमेट एक्शन (Climate Action)है। योग हमें शारीरिक ही नहीं बल्कि मानसिक रूप से भी स्वस्थ (Healthy) रखने में मदद करता है। योग (Yoga) और प्राणायाम (Pranayam) को भारत की देन कहना गलत नहीं होगा। क्योंकि भारत में साढ़े चार हजार साल से योगाभ्यास का इतिहास ( Yoga History) रहा है। इसलिए अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस (International Yoga Day 2019) पर आज हम आपको बिना साइड इफेक्ट्स के आज की सबसे बड़ी समस्या बन चुके तनाव को दूर करने के लिए योग (Yoga For Stress) बता रहे हैं।

तनाव को दूर करने के लिए योग :




1. नियमित रुप से 10-15 मिनट ध्यान यानि मेडिटेशन करने से आप तनाव को दूर करने का सबसे आसान तरीका माना जाता है। इसके साथ ही ध्यान से बौद्धिक और एकाग्रता की क्षमता को भी बढ़ाने में मदद मिलती है।

2.मर्जरी आसन करने के लिए सबसे पहले घुटनों और हाथों के बल बैठ जाएं यानि शरीर को टेबल का आकार दें। याद रखें कंधे और हथेली एक सीध में हो, वैसे ही कूल्हे और घुटने भी एक सीध में रखें। इससे मस्तिष्क के साथ-साथ पूरे शरीर को आराम मिलता है। जिससे तनाव में तेजी से कमी आती है।




3.शवासन का नियमित अभ्यास करने से भी तनाव से निजात पाई जा सकती है। शवासान करने के लिए सबसे पहले दरी या योगा मैट पर पीठ के बल लेट जाएं। उसके बाद अपने पैरों को खोलें और हाथों की हथेलियों को आकाश या छत की तरफ करें। इसके बाद आंखें बंद करते हुए शरीर को ढीला छोड़ दें। इस स्थिति में कुछ देर रूकें और फिर पुन: वापस पहले वाली अवस्था में आ जाएं।

4. पश्चिमोतानासन करने के लिए योगा मैट या दरी पर आगे की तरफ पैर फैलाकर बैठ जाएं। इसके बाद अपने दोनों हाथों को ऊपर की ओर उठाएं और फिर धीरे-धीरे नीचे झुकते हुए पैरों के अंगूठों को पकड़ें। पैर के अंगूठे पकड़ते समय अपने सिर को घुटनों पर लगाएं, फिर इस स्थिति में कुछ देर रूकें। पश्चिमोतानासन को करते समय शरीर का रक्त प्रवाह मस्तिष्क बढ़ जाता है। जिससे मानसिक शांति मिलती और तनाव दूर होता है।




5. तनाव को दूर करने के लिए आम जीवन में किया जाने वाला सुखासन यानि चौकड़ी मारना भी बेहद कारगर होता है। सुखासन को करने के लिए सबसे पहले अपने पैरों को सामने की तरफ खोलें। उसके बाद बाएं पैर को मोड़कर दाएं पैर के नीचें रखें, फिर दाएं पैर को मोड़कर बाएं पैर के ऊपर रखें। अब हाथों को ज्ञान मुद्रा में रखें और आंखे बंद कुछ देर शांति से बैठ जाएं।

Share it
Top