Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

International Yoga Day 2019: अंतर्राष्‍ट्रीय योग दिवस पर जानें पवनमुक्‍तासन के फायदे और पवनमुक्तासन कैसे करें

International Yoga Day 2019: अंतर्राष्‍ट्रीय योग दिवस 2019 (International Yoga Day 2019) हर साल की तरह 21 जून (21 june) को भारत ही नहीं बल्कि दुनिया के लगभग हर देश में बड़ी ही धूमधाम से मनाया जाएगा। इस बार पांचवां अंतर्राष्‍ट्रीय योग दिवस (International Yoga Day 2019) मनाया जाएगा। विश्व योग दिवस ( World yoga Day) के लिए कई दिनों पहले से ही देश और दुनिया में जोर-शोर से लोगों ने तैयारियां शुरू कर दी हैं। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी लोगों को योग दिवस (Yoga Day) और योगासनों के प्रति जागरुक करते हुए लगातार ट्वीटर के जरिए रोजाना एक योगासन के फायदे और उसे करने का तरीका के बारे में बता रहे हैं। पीएम मोदी (PM Modi) ने पवनमुक्‍तासन का वीडियो (PavanmukutaasanVideo) शेयर किया था जिसमें पवनमुक्‍तासन फायदे और करने के तरीके (Pavanmukutaasan Benefits and Right Way to Do)बताएं थे। इससे आप रोजाना गैस और कब्ज जैसी पेट की समस्या से निजात पा सकते हैं। आइए जानते हैं पवनमुक्‍तासन के लाभ (Pavanmukutaasan Advantages)और करने का सही तरीका।

International Yoga Day 2019: अंतर्राष्‍ट्रीय योग दिवस पर जानें पवनमुक्‍तासन के फायदे और पवनमुक्तासन कैसे करें

International Yoga Day 2019: अंतर्राष्‍ट्रीय योग दिवस 2019 (International Yoga Day 2019) हर साल की तरह 21 जून (21 june) को भारत ही नहीं बल्कि दुनिया के लगभग हर देश में बड़ी ही धूमधाम से मनाया जाएगा। इस बार पांचवां अंतर्राष्‍ट्रीय योग दिवस (International Yoga Day 2019) मनाया जाएगा। विश्व योग दिवस ( World yoga Day) के लिए कई दिनों पहले से ही देश और दुनिया में जोर-शोर से लोगों ने तैयारियां शुरू कर दी हैं। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी लोगों को योग दिवस (Yoga Day) और योगासनों के प्रति जागरुक करते हुए लगातार ट्वीटर के जरिए रोजाना एक योगासन के फायदे और उसे करने का तरीका के बारे में बता रहे हैं। पीएम मोदी (PM Modi) ने पवनमुक्‍तासन का वीडियो (पवनमुकुटासन Video) शेयर किया था जिसमें पवनमुक्‍तासन फायदे और करने के तरीके (Pavanmukutaasan Benefits and Right Way to Do)बताएं थे। इससे आप रोजाना गैस और कब्ज जैसी पेट की समस्या से निजात पा सकते हैं। आइए जानते हैं पवनमुक्‍तासन के लाभ (Pavanmukutaasan Advantages) और करने का सही तरीका।




पवनमुक्‍तासन करने का सही तरीका :

1.पवनमुक्‍तासन के नाम के मुताबिक इसमें वायु को मुक्त करना यानि छोड़ने पर फोकस किया जाता है। पवनमुक्‍तासन आपके शरीर में मौजूद आंतों से वायु या वात निकालने में मददगार साबित होता है।

2. पवनमुक्‍तासन करने के लिए सबसे पहले जमीन पर अपने दोनों हाथों और पैरों को एक कंफर्टेबल दूरी में फैलाकर जमीन पर पीठ के बल यानि सीधा लेट जाएं।

3. इसके बाद अपने दोनों हथेलियों को खोल लें। इस स्थिति को शवासान कहा जाता है।

4. अब शवासन में आगे बढ़ते हुए अपने दोनों पैरों को जोड़ें और घुटनों को मोड़ते हुए अपने सीने के पास लाएं।

5. इसके बाद दोनों हाथों की अंगुलियों को दोनों हाथों को आपस में गूंथे और घुटनों के नीचे अपनी पिंडलियों के पास पकड़ें।

6. अब सांस को धीरे-धीरे छोड़ते हुए अपने कंधों को ऊपर तब तक उठाएं, जब तक आपकी ठोढ़ी घुटनों पर न लग जाएं।

7. ऐसा करने से आपकी कमर के हिस्से में खिंचाव महसूस होगा।

8. अब अपनी आंखें बंद करें और अपने कमर के हिस्से में पर पड़ रहे खिंचाव पर ध्यान लगाएं। इस स्थिति में कुछ देर रूकें और उस दौरान सा सामान्‍य रूप से सांस लें और छोड़ें।

9. इसके बाद धीरे-धीरे सांस छोड़ते हुए अपने सिर और कंधों को पुन: जमीन पर रखें।

10. अब सांस छोड़ते हुए अपनी पैरों को सीधा करें और फिर से शवासन की मुद्रा में आकर विश्राम करें।





पवनमुक्‍तासन के फायदे (Pavanmukutaasan Benefits)

पवनमुक्‍तासन से आपको कब्‍ज की समस्‍या नहीं होती और पाचन में सुधार करता है।

नियमित रूप से पवनमुक्‍तासन करने से आपको वात यानि गैस से राहत मिलती है और उदर की वायु को कम करता है।

पवनमुक्‍तासन करने से मेरू तंत्रिकाओं को मजबूत करता है।

पवनमुक्‍तासन के रोजाना अभ्यास से कमर की मांसपेशियों को मजबूती मिलती है।

पवनमुक्‍तासन आपके रक्‍त संचारण यानि ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ाकर आंतरिक अंगों की कार्यक्षमता में बढ़ोतरी करता है।

पवनमुक्‍तासन की सावधानी

अगर आपको पीठ दर्द या कमर में चोट लगी हुई है तो इस आसन को करने से बचें। इसके अलावा सायटिका, गर्भावास्था और हार्निया के मरीजों को भी पवनमुक्‍तासन करने से बचना चाहिए।

Next Story
Top