Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

महिलाएं खुद को कैसे खुश रखें, जानें यहां...

महिलाएं अपने परिवार, दोस्तों और करीबियों की खुशियों का पूरा ख्याल रखती हैं। लेकिन जब अपनी खुशी की बात आती है तो इसे नजरअंदाज कर देती हैं। खुद के लिए यही रवैया उन्हें खुशियों से दूर कर देता है। जबकि खुद को खुश रखना सबसे जरूरी है। जानिए, अपने आपको खुश कैसे रखा जाए।

महिलाएं खुद को कैसे खुश रखें, जानें यहां...How to Keep Women Happy In Hindi

बिना किसी बड़ी वजह के भी क्या आप उदास रहती हैं? क्या आपको लगता है कि कुछ अच्छा नहीं कर पा रही हैं? आप अपनी जिंदगी से खुश नहीं हैं और अपने परिवार को खुश नहीं रख पा रही हैं? अगर आपके मन में ऐसे सवाल आते हैं तो इन्हें जल्द से जल्द दूर कर लेना चाहिए। इसके लिए आपको अपना नजरिया बदलने की जरूरत है। अपने लिए खुशी की तलाश करने की जरूरत है। अगर आप चाहती हैं कि आपका परिवार खुश रहे, तो सबसे जरूरी है कि पहले आप खुश रहें। इसके लिए कुछ बातों को अपनी जिंदगी में अहमियत देना शुरू करें।

अपनी पसंद का एक काम जरूर करें

कहा जाता है कि इंसान को सबसे ज्यादा खुशी उसके पसंद का काम करने से मिलती है। सो खुश रहने के लिए आप रोज अपनी पसंद का एक काम जरूर करें। जैसे अगर खाना बनाना पसंद है तो रोज एक नई डिश बनाएं। पढ़ना पसंद है तो अच्छी किताबें पढ़ें। घूमना पसंद है तो लॉन्ग ड्राइव पर जाएं। नेचर लवर हैं तो किसी नेचुरल जगह पर जाएं, पार्क जाएं या घर में लगाए गए पेड़-पौधों की देखभाल करें। यानी कुछ ऐसा करें, जो आपको अच्छा महसूस कराए।

इच्छाओं को न मारें

अकसर देखने में आता है कि महिलाएं परिवार, रिश्तों को निभाने के लिए कई बार अपनी इच्छाओं को दबा देती हैं। लेकिन खुश रहने के लिए जरूरी है कि अपनी इच्छाओं को न मारें। अपनी ख्वाहिशों को पूरा करें। जब आपकी ख्वाहिशें पूरी होंगी तो ही आप अपनों की खुशी, ख्वाहिशों का ख्याल रख पाएंगी। इससे आपको खुशी मिलेगी।

स्थिति को करें स्वीकार

अकसर महिलाओं की झुंझलाहट का कारण उनके द्वारा अपने हालातों को स्वीकार न कर पाना होता है। महिलाएं जिन परिस्थितियों का सामना करती हैं, अकसर उन्हें कोसती रहती हैं। खुश रहने के लिए बहुत जरूरी है कि आप अपने हालात को स्वीकार करें। जिस भी स्थिति में हैं, उसे लेकर मन में कोई शिकायत न रखें। इसके लिए नेगेटिव लोगों से दूर रहें और पॉजिटिव सोच को अपनाएं। यह सोचें कि कल से बेहतर आज आपकी जिंदगी है, तो कल और बेहतर होगी। पॉजिटिव सोच आपको खुशी देगी।

खुद की आलोचना न करें

कई बार यह देखने में आता है कि कुछ महिलाएं खुद ही अपनी आलोचना करने लगती हैं। उन्हें लगता है कि फलां काम उनसे नहीं हो पाएगा या यह काम उनसे अच्छा नहीं हो पाया। लेखक डायल डियना श्वार्ट्ज ने अपनी एक किताब में लिखा है, 'महिलाएं अकसर खुद की आलोचना करती हैं। उन्हें लगता है कि वह यह काम अच्छे से नहीं कर सकतीं। इससे उनका आत्मविश्वास कमजोर होता है।'

अपने इस बिहेवियर को सुधारें और खुद पर भरोसा कायम रखें। आप खुद को तभी प्यार दे सकती हैं, जब आप अपनी गल्तियों के लिए खुद को माफ कर देती हैं और भविष्य में अच्छा करने का सोचती हैं।

न कहना सीखें

महिलाओं के लिए सबसे बड़ी चुनौती होती है किसी को न कहना। किसी काम के लिए मना नहीं करने की आदत के कारण अकसर महिलाएं ऐसे काम भी कर देती हैं, जिन्हें वह करना नहीं चाहतीं। इसलिए न कहना जरूरी है। आपका कोई पड़ोसी या परिजन या दोस्त आपसे अपने साथ कहीं चलने को कहता है, लेकिन आपका मन घर पर रहकर अपनी पसंद की किताब पढ़ने का है तो आप उसे मना कर दें या बाद में जाने को कहें। ऐसा करने से आप किताब पढ़ पाएंगी और इससे आपको बाहर जाने से ज्यादा खुशी मिलेगी। ऐसी ही कई और बातों के लिए न जरूर कहें, जिन्हें करने का आपका मन नहीं है।

Next Story
Top