Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

रेग्युलर करें एक्सरसाइज रहेंगी स्ट्रेस फ्री

महिलाओं पर घर-बाहर के काम का काफी प्रेशर रहता है। इनके अलावा कुछ माह से कोविड-19 के संक्रमण के डर ने उनके स्ट्रेस को और बढ़ा दिया है। स्ट्रेस फ्री रहने में एक्सरसाइज का इंपॉर्टेंट रोल होता है। हम आपको बता रहे हैं स्ट्रेस फ्री रहने के लिए कौन सी एक्सरसाइज करें।

रेग्युलर करें एक्सरसाइज रहेंगी स्ट्रेस फ्री
X
रेग्युलर करें एक्सरसाइज रहेंगी स्ट्रेस फ्री (फाइल फोटो)

महिलाएं गृहिणी हो या काम-काजी, अधिकतर ऐसे शेड्यूल में बंधी होती हैं, जिसमें उन्हें खुद के लिए समय नहीं मिल पाता है। इन दिनों कोरोना की समस्या ने उनकी मुश्किलें और बढ़ा दी हैं। ऑफिस, घर की दोहरी जिम्मेदारियों और अपनों की सेहत की चिंता से वे टेंशन में रहती हैं। ऐसे में यदि वे रेग्युलर एक्सरसाइज पर फोकस करें तो अपने दिमाग को हमेशा फ्रेश रख सकती हैं। फिजिकली एक्टिव रहने से महिलाएं मेंटली, फिजिकली स्ट्रॉन्ग भी बनेंगी।

साइकलिंग-जॉगिंग

स्ट्रेस फ्री रहने के लिए साइकलिंग-जॉगिंग जरूर करें। इससे काफी रिलैक्स फील होता है। साइकलिंग के कई हेल्थ बेनिफिट्स भी हैं। इससे धीरे-धीरे स्ट्रेस भी कम होने लगता है। आप चाहें तो अल्टरनेट डे पर भी इसे कर सकती हैं। आप एक दिन साइकलिंग, एक दिन जॉगिंग करें। ऐसा रोजाना 15 मिनट करें, इससे आपको काफी फायदा होगा। आप चाहें तो स्ट्रेचिंग भी कर सकती हैं। स्ट्रेचिंग से आपकी बॉडी रिलैक्स फील करेगी।

एरोबिक

अकसर महिलाएं वेट लॉस करने के लिए एरोबिक एक्सरसाइज का सहारा लेती हैं। एरोबिक एक मिनट के अंदर ही बॉडी के लॉक पार्ट्स को ओपन कर देता है। जो महिलाएं एरोबिक करती हैं, वे स्ट्रेस-टेंशन फ्री रहती हैं। आप भी अपने स्ट्रेस को कम करने के लिए एरोबिक एक्सरसाइज कर सकती हैं। एरोबिक काफी एनर्जेटिक एक्सरसाइज है, इसे लाउड म्यूजिक के साथ बहुत स्पीड में किया जाता है।

रखें ध्यान

- एक्सरसाइज के साथ ही एक अच्छी लाइफस्टाइल से स्ट्रेस फ्री हो सकती हैं। इसके लिए समय से सोना-जागना और बाकी के सभी काम करने होते हैं। ऐसे में अपना एक टाइम टेबल सेट कर लें, उसी के अकॉर्डिंग अपने सारे काम करें।

- स्ट्रेस फ्री रहने के लिए अपनी डाइट पर भी खास ध्यान दें।

Also Read: कब्ज की समस्या को दूर करने की बेस्ट दवा है घी और गर्म पानी, बस इस तरह करना होगा सेवन

मेडिटेशन

स्ट्रेस फ्री रहने के लिए मेडिटेशन बहुत जरूरी है। आप खुली जगह पर या कमरे में ऊं का उच्चारण सुनते हुए या करते हुए मेडिटेशन कर सकती हैं। इससे आपको पॉजिटिव एनर्जी मिलेगी। आपका स्ट्रेस भी कम होगा। आप चाहें तो शवासन में लेटकर भी खुद को रिलैक्स कर सकती हैं। इसके अलावा रोजाना प्राणायाम करें। ऐसा करने से भी आपका स्ट्रेस दूर होगा।

Next Story