Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Health Tips: आता है ज्यादा गुस्सा, इन उपायों के जरिए करें खुद पर काबू

Health Tips: मनुष्य की बाकि भावनाओं की तरह गुस्सा भी एक आम बात है। लेकिन जब यह नियंत्रण से बाहर हो जाता है, तो यह समस्या पैदा कर सकता है। यहां हम आपको गुस्से को मैनेज करने के कुछ उपाय बताएंगे...

Health Tips: आता है ज्यादा गुस्सा, इन उपायों के जरिए करें खुद पर काबू
X

Health Tips: मनुष्य (Human) की बाकि भावनाओं (Feelings) की तरह गुस्सा (Anger) भी एक आम बात है। लेकिन जब यह नियंत्रण (Control) से बाहर हो जाता है, तो यह समस्या पैदा कर सकता है। क्रोध भी बहुत सारे शारीरिक और जैविक परिवर्तनों का कारण बनता है। गुस्से के कारण हार्ट बीट और ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है, जैसा कि एनर्जी हार्मोन, एड्रेनालाईन और नॉरएड्रेनालाईन के स्तर में होता है। गुस्सा किसी भी चीज और किसी से या किसी भी स्थिति से शुरू हो सकता है। कभी-कभी निजी जीवन में समस्याएं भी क्रोध का कारण बन सकती हैं।

इसके तीन मेन स्टेज है, व्यक्त, दमन और शांत करना। अपने गुस्से की भावनाओं को मुखर रूप से बिना आक्रामक हुए व्यक्त करना, क्रोध व्यक्त करने का सबसे स्वास्थ्यप्रद तरीका है। ऐसा करने के लिए, आपको सीखना होगा कि कैसे स्पष्ट किया जाए कि आपकी ज़रूरतें क्या हैं, और दूसरों को चोट पहुंचाए बिना उन्हें कैसे पूरा किया जाए। यहां हम आपको गुस्से को मैनेज करने के कुछ उपाय बताएंगे...

बोलने से पहले सोचें

यह कहा जाता है कि आप एक ब्रेक लें, स्थिति का पुनर्मूल्यांकन करें, इसमें शामिल अन्य लोगों पर विचार करें और फिर बोलें। जब हम क्रोधित होते हैं, तो हम उन चीजों के बारे में बात करने लगते हैं जो बाद में हमारे पछताने का कारण बन सकता है।

शांत होनें के बाद गुस्से को व्यक्त करें

कहते हैं कि जब आप गुस्से में होते हैं, तो हमारे सोचने-समझने की शक्ति भी कम हो जाती है। एक बार जब आपका गुस्सा कंट्रोल या शांत हो जाए उसके बाद ही आप अपने गुस्से को व्यक्त करें। अपनी भावनाओं को व्यक्त करें और उन चिंताओं को दूर करें जिनका आप सामना कर रहे हैं।

एक्सरसाइज

शारीरिक गतिविधि तनाव को कम करने और मांसपेशियों को आराम देने में मदद करती है। गुस्सा आने पर बेहतर महसूस करने के लिए टहलने या कुछ समय के लिए शारीरिक व्यायाम करने की सलाह दी जाती है।

टाइमआउट लें

जब स्थिती तनावपूर्ण होने लगे तो दिन के बीच में एक ब्रेक लें। यह तनाव से निपटने के लिए दिमाग और शरीर को रिचार्ज करने में मदद करता है।

समाधान की पहचान करें

क्रोध का समाधान नहीं होने के बारे में अपने आप से बात करें। उन चीजों और स्थितियों के संभावित समाधानों पर विचार करें जो आपको गुस्सा दिलाती हैं।

द्वेष न रखें

किसी और के प्रति द्वेष रखने से हमें केवल कड़वा लगता है। दूसरों को क्षमा कर देना और क्रोध को छोड़ देना ही बेहतर है। किसी अन्य व्यक्ति के कार्यों के बारे में शिकायत करने के बजाय आप जिस चिंता का सामना कर रहे हैं और यह आपको कैसे प्रभावित कर रहा है, उसे व्यक्त करें।

रिलेक्सेशन स्किल्स को प्रैक्टिस करें

गहरी सांस लेने के व्यायाम या खुद से बात करना और आश्वस्त करना कि स्थिति बेहतर हो सकती है, मन को शांत करने और क्रोध को कम करने के कुछ इस तरीके को अपनाएं।

और पढ़ें
Next Story