Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Health Tips: औषधीय गुणों से भरपूर है नारियल, जानें इसके फायदे

Health: नारियल (Coconut) स्वास्थ्यवर्धक (Healthy) होने के साथ ही अपनी विशेषताओं के कारण पूजा-पाठ और विवाह जैसे संस्कारों में भी उपयोग किया जाता है। इसका सेवन कई तरह से किया जाता है। नारियल में कई मिनरल्स, एमिनो एसिड, फाइबर, प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट आदि पोषक तत्व होते हैं। इसके औषधीय गुणों के बारे में जानिए।

Health Tips: औषधीय गुणों से भरपूर है नारियल, जानें इसके फायदे
X

Health: नारियल (Coconut) स्वास्थ्यवर्धक (Healthy) होने के साथ ही अपनी विशेषताओं के कारण पूजा-पाठ और विवाह जैसे संस्कारों में भी उपयोग किया जाता है। इसका सेवन कई तरह से किया जाता है। इसे नारिकेल-महाफल, गोला, गरी, श्रीफल, खोपर और कोकोनट के नाम से भी जाना जाता है। यह रक्त विकार, वात और पित्त नाशक है। सिर दर्द, हिचकी, उल्टी, दस्त, सूजन आदि में इसका सेवन लाभकारी है। नारियल का तेल (Coconut Oil) बालों का पोषण करने वाला है। जले स्थान पर इसका तेल लगाने से जलन शांत होती है। नारियल में कई मिनरल्स, एमिनो एसिड, फाइबर, प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट आदि पोषक तत्व होते हैं। इसके औषधीय गुणों के बारे में जानिए।

  • आंखों के सामान्य रोगों में राहत के लिए इसकी गिरी और शक्कर (चीनी नहीं) खाना हितकारी है।
  • इसका सेवन बल पौरुष बढ़ाने वाला, मासिकधर्म की समस्याओं में हितकर है।
  • इसका सेवन शरीर को पुष्ट करने वाला और मस्तिष्क की दुर्बलता को दूर करने वाला है। स्मरण शक्ति बढ़ाने के लिए इसकी गिरी का सेवन लाभकारी है।
  • बढ़े कोलेस्ट्रॉल वाले मरीज के लिए इसका सेवन लाभकारी है।
  • इसके नियमित सेवन से हडि्डयों में लचक पैदा होती है।
  • इसका पानी निर्जलीकरण की कमी को दूर करने में सक्षम है।
  • नींद की कमी जैसी समस्याओं में इसके पानी का सेवन लाभकारी है।
  • हिचकी और पेट दर्द में इसका पानी पीने से राहत मिलती है।

ऐसे करें सेवन

  • गर्भ स्थापना से प्रसव तक इसकी गिरी, मिश्री के साथ सेवन करने से प्रसव पीड़ा का कष्ट कम होता है। संतान तंदुरुस्त और स्वस्थ सुंदर होती है।
  • लू की चपेट में आने पर इसके पानी में काला जीरा पीस कर सारे शरीर पर लेप करना चाहिए।
  • इसके पानी की दो-दो बूंद दिन में दो बार नाक में डालने से (अर्धकपारी) आधासीसी में आराम मिलता है।
  • नारियल के तेल में नीबू का रस मिलाकर शरीर पर मलने से खुजली से राहत मिलती है। इस क्रिया से सिर के बालों का सफेद होना, झड़ना भी रुकता है।
  • बहते खून को रोकने के लिए इसकी जटा की भस्म लगाना हितकर है।
  • पुरानी खांसी और दमा के लिए इसकी जटा की भस्म को शहद के साथ लेने से आराम मिलता है।

रखें ध्यान

नारियल का पाचन देर से होता है, इसलिए सीमित मात्रा में इसका सेवन करें। हृदय रोगी और मधुमेह (डायबिटीज) के मरीज इसके सेवन से परहेज करें। इसका सेवन शरीर को मोटा कर सकता है। सूखा नारियल खाने से पेट में गैस और दस्त की समस्या हो सकती है।

नोट: यहां बताए गए उक्त सभी उपाय, उपचार सामान्य हैं। सेवन से पहले अपने वैद्यजी या आयुर्वेद विशेषज्ञ से सलाह अवश्य करें।

लेखक- वैद्य हरिकृष्ण पांडेय 'हरीश'

और पढ़ें
Next Story